तकनीकी जानकारियों से बढ़ेगा फसलों का उत्पादन: बनवारी

तकनीकी जानकारियों से बढ़ेगा फसलों का उत्पादन: बनवारी
कादरचौक स्थित जूनियर हाई स्कूल में इफको द्वारा आयोजित रबी गोष्ठी का शुभारंभ करते एमएलसी बनवारी सिंह यादव, विधायक आशीष यादव व डीएम शंभुनाथ।
कादरचौक स्थित जूनियर हाई स्कूल में इफको द्वारा आयोजित रबी गोष्ठी का शुभारंभ करते एमएलसी बनवारी सिंह यादव, विधायक आशीष यादव व डीएम शंभुनाथ।

बदायूं के किसान तकनीकी ज्ञान के अभाव में अपनी फसलों का उत्पादन पर्याप्त मात्रा में नहीं कर पाते हैं। गोष्ठियों के माध्यम से कृषकों को तकनीकी एवं वैज्ञानिक विधि से खेती का उत्पादन बढ़ाने की सलाह दी जाती है। जनपद में सरकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने के लिए पारदर्शी व्यवस्था बनाई गई है, जिससे कोई भी पात्र वंचित न रहेगा।
सोमवार को जूनियर हाई स्कूल कादरचौक में इफको द्वारा रबी गोष्ठी आयोजित की गई। गोष्ठी में विधान परिषद सदस्य बनवारी सिंह यादव ने मुख्य अतिथि के रूप में अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि किसानों को समुचित जानकारी न होने के कारण वह खेती कर के भरपूर लाभ नहीं उठा पाते हैं, इसीलिए गोष्ठियां आयोजित कराकर किसानों को नवीनतम तकनीकी जानकारियां उपलब्ध कराई जा रही हैं। उन्होंने कहा कि ग्राम असरासी के विद्युत केन्द्र की क्षमता बढ़ाई जा रही है और सड़कों का भी निर्माण कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सहकारिता विभाग के सोलह हजार करोड़ रूपए का कर्जा प्रदेश सरकार द्वारा माफ किया गया है।
शेखूपुर के विधायक आशीष यादव ने कहा कि किसानों के हितार्थ जनपद में नहर बनाने का कार्य शुरू हो चुका है, इससे न केवल सिंचाई का लाभ होगा, बल्कि भूजल स्तर भी ऊपर उठेगा। उन्होंने कहा कि सौर ऊर्जा के माध्यम से नलकूप चलाने की कार्य योजना तैयार की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि पैनल की सुरक्षा व्यवस्था हेतु कार्य योजना पर विचार चल रहा है, क्योंकि जंगल में लगे पैनलों की सुरक्षा किया जाना महत्वपूर्ण है।
जिलाधिकारी शम्भू नाथ ने कहा कि अन्नदाता बहुत बड़ा त्यागी होता है, वह बिना लाभ हानि की चिन्ता किए बगैर गर्मी, जाड़े एवं बरसात में दिन रात मेहनत करता रहता है और फल की उम्मीद लगाए रहता है। उन्होंने कहा कि किसानों के हितार्थ चलाई जा रही तमाम योजनाओं को पारदर्शी बनाकर लाभान्वित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जनपद में पर्याप्त मात्रा में डीएपी खाद उपलब्ध हो चुकी है, जो किसानों को सहकारी समितियों के माध्यम से बेंची जाएगी। सहायक निबंधक सहकारी समितियां सतीश चन्द्र श्रीवास्तव ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा सहकारिता के कर्जदारों के लिए एक मुश्त जमा समझौता योजना, जनता दुर्घटना बीमा योजना, संकट हरण बीमा योजना चलाई जा रहीं है। किसानों को लाभ उठाना चाहिए। गोष्ठी का प्रारम्भ दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। माल्यार्पण कर स्वागत भी हुआ। इफको के स्टेट मार्केटिंग मैनेजर एआर रहमान, उप निदेशक कृषि प्रसार अमर नाथ मिश्रा, जिला कृषि अधिकारी आरके सिंह सहित कृषि वैज्ञानिक भी मौजूद रहे।

Leave a Reply