पशु तश्करों के साथ ट्रांसपोर्टर व वाहन स्वामी को भी भेजें जेल

पशु तश्करों के साथ ट्रांसपोर्टर व वाहन स्वामी को भी भेजें जेल
डीएम व एसएसपी से बात करते भाकियू कार्यकर्ता।
डीएम व एसएसपी से बात करते भाकियू कार्यकर्ता।

बदायूं के जिलाधिकारी शम्भू नाथ एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने पशु तस्करों पर कठोर कार्रवाई करने के साथ ही संबंधित ट्रांसपोर्टर एवं वाहन स्वामी के विरूद्ध भी मुकद्दमा दर्ज करने के निर्देश दिए हैं।
शनिवार को थाना मुजरिया एवं उझानी में आयोजित समाधान दिवस में जिलाधिकारी व एसएसपी भी शामिल हुए। समीक्षा के दौरान असंतोष व्यक्त करते हुए कहा कि समाधान दिवसों में शिकायतें कम प्राप्त होना चिन्ताजनक है। जिलाधिकारी ने कहा  कि पशु तश्करी मामलों में संलिप्त दोषियों के साथ ही पकड़े जाने वाले वाहन के स्वामी एवं वाहन जिस ट्रांसपोर्ट से गया है, उसके भी खिलाफ मुकद्दमा पंजीकृत किया जाए। कोतवाल उझानी ने जिलाधिकारी व एसएसपी को अवगत कराया कि 18 अक्टूबर को प्रातः काल लगभग चार बजे मैटाडोर में तीन गाय एवं दो बैलों के साथ जिला मुरादाबाद के थाना मैनाठेर निवासी कदीर पुत्र अबरार एवं थाना कुदरंकी के असलम पुत्र मोहम्मद नवी को पशु तश्करी में गिरफ्तार कर जेल भेजा जा रहा है, जिस पर दोनों अधिकारियों ने प्रसन्न्ता व्यक्त करते हुए कहा कि पशु तश्करी में लिप्त किसी व्यक्ति के साथ कोई रियायत न बरती जाए। कोतवाली उझानी में भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारियों ने विभिन्न समस्याओं को लेकर जिलाधिकारी को ज्ञापन भी सौंपा।
थाना मुजरिया में आयोजित समाधान दिवस में उपस्थित चकबन्दी विभाग के एसीओ बिल्सी से जिलाधिकारी ने चकबन्दी संबंधी प्रगति की जानकारी हासिल की, तो उन्होंने बताया कि वर्ष 2012 में उनके क्षेत्र में बारह गांव में चकबन्दी कार्य होना था, जिसमें अब तक मात्र तीन गांव में काम शुरू हुआ है और नौ गांव अभी भी ऐसे हैं, जिसमें अब तक चकबन्दी संबंधी कोई भी काम शुरू ही नहीं हो सका है। जिलाधिकारी ने इस पर कड़ी नाराजगी जताते हुए एसीओ सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारियों को सचेत करते हुए चेतावनी दी है कि चकबन्दी कार्य निर्धारित अवधि में शत-प्रतिशत पूरे किए जाएं और कार्य में तेजी लाई जाए।
दोनों अधिकारियों ने थानों का निरीक्षण कर त्योहार रजिस्टर, असलहा रजिस्टर 107/16, 151 गुंडा एक्ट, गैंगस्टर, एनएसए आदि की गहनता से जांच पड़ताल की। इस अवसर पर सीओ उझानी एमके सक्सेना, एसओ राम सूरत सिंह, एसओ मुजरिया उदय भान सिंह सहित अन्य संबंधित मौजूद रहे।

Leave a Reply