जिस समारोह में सीएम आये, उस में ही हुआ यौन उत्पीड़न

जिस समारोह में सीएम आये, उस में ही हुआ यौन उत्पीड़न
शाहजहांपुर में आये मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का फाइल फोटो।
शाहजहांपुर में आये मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का फाइल फोटो।

जिस विवाह समारोह में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव शरीक हुए, उसी समारोह में रात को एक किशोरी का यौन उत्पीड़न करने का प्रयास किया गया, साथ ही उसी किशोरी के अपहरण का भी प्रयास किया गया, लेकिन नामजद तहरीर देने के बावजूद पुलिस दुस्साहसिक वारदात को दबाने के प्रयास में जुटी नजर आ रही है। वीवीआईपी की मौजूदगी में हुई घटना के चलते अधिकाँश लोग स्तब्ध नजर आ रहे हैं।

दुस्साहसिक वारदात शाहजहांपुर शहर की है। 17 अक्टूबर को सपा जिला अध्यक्ष व शाहजहाँपुर नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष तनवीर खां का निकाह था। कैंट क्षेत्र में स्थित शाह क्लब में आयोजित समारोह में 17 अक्टूबर को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी शरीक हुए थे, जिससे पूरे इलाके में सुरक्षा के अभूत पूर्व इंतजाम किये गये थे। हालांकि मुख्यमंत्री दोपहर बाद चले गये, लेकिन प्रदेश भर के अन्य तमाम वीवीआईपी के आने का क्रम देर रात तक जारी रहा, ऐसे अति सुरक्षित माहौल में एक 14 वर्षीय किशोरी का यौन उत्पीड़न करने का प्रयास किया गया। लड़की ने विरोध किया और उसका अन्य लोगों ने साथ दिया, तो उत्पीड़न करने वाला समारोह से भाग गया, लेकिन किशोरी अपने चचेरे भाई के साथ समारोह से घर की ओर जा रही थी, तो मालगोदाम रोड पर रात में करीब 1: 00 बजे उसके अपहरण का भी प्रयास किया गया। आरोप है कि घटना की सूचना तत्काल पुलिस को दी गई, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

बताते हैं कि लड़की का पिता सेवा निवृत्त फौजी है। पीड़ित लड़की अपनी बुआ के पास रहती है और कक्षा- आठ की छात्रा है। घटना से वो डरी-सहमी है और पुलिस ने कार्रवाई नहीं की, तो उसका स्कूल जाना भी बंद हो सकता है। पुलिस की भूमिका को लेकर अधिकांश लोग स्तब्ध हैं और आशंकित भी हैं कि पुलिस इस तरह की घटनाओं में भी कार्रवाई नहीं कर रही, तो लड़कियां किस के सहारे रहेंगी?

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

शाहजहांपुर के गन्ना शोध संस्थान को विकसित किया जायेगा

Leave a Reply