35 दिन के अंदर रोमियो इंस्पेक्टर बहाल, पीड़ित ने लगाई सीएम से गुहार

35 दिन के अंदर रोमियो इंस्पेक्टर बहाल, पीड़ित ने लगाई सीएम से गुहार
पीड़ित

बदायूं जिले की कोतवाली बिसौली में तैनाती के समय इंस्पेक्टर संत प्रसाद उपाध्याय द्वारा परेशान की गई लड़की अभी दहशत से उबर भी नहीं पाई है, इसके बावजूद मात्र 35 के दिन अंदर ही आरोपी रोमियो इंस्पेक्टर को बहाल कर दिया गया है, जिससे पीड़ित भयभीत हो उठी है।पीड़ित ने एक बार फिर मुख्यमंत्री से न्याय दिलाने की गुहार लगाई है।

उल्लेखनीय है कि बिसौली कोतवाली क्षेत्र के गाँव बावेपुर निवासी एक लड़की का बिसौली कोतवाली में तैनात रहे इंस्पेक्टर संत प्रसाद उपाध्याय वाट्सएप पर मैसेज भेज कर शोषण कर रहे थे। लड़की ने आपत्ति जताई, तो भी इंस्पेक्टर ने वाट्सएप पर मैसेज करने बंद नहीं किये। लड़की ने एसएसपी से शिकायत करने की चेतावनी दी, तो आरोपी इंस्पेक्टर ने चेतावनी को भी गंभीरता से नहीं लिया। पीड़ित लड़की ने इंस्पेक्टर का सीयूजी नंबर वाट्सएप पर ब्लॉक कर दिया, तो संत प्रसाद उपाध्याय चिढ़ गये और लड़की के पिता का चालान कर दिया। पिता का अपमान होने के बाद लड़की का धैर्य जवाब दे गया, उसने 31 मार्च को बरेली में वरिष्ठ अफसरों से शिकायत कर दी, जिस पर संत प्रसाद उपाध्याय को तत्काल लाइन हाजिर कर दिया गया, साथ ही कोतवाली बिसौली में मुकदमा दर्ज कर दिया गया एवं आरोपी इंस्पेक्टर को निलंबित भी कर दिया गया, इसके बाद में जनपद से बाहर तबादला कर दिया गया, इस सबके बावजूद आरोपी निरंतर पीड़ित का न सिर्फ मानसिक रूप से उत्पीड़न करता रहा, बल्कि पीड़ित पर दबाव बनाने के उद्देश्य से इस्लामनगर, सहसवान और बिसौली के पुलिस के कई दलालों से पीड़ित लड़की के संबंध में दुष्प्रचार कराना शुरू कर दिया। रूपये और गाड़ी मुहैया करा कर दलालों को बदायूं मुख्यालय ले आया और उन्हें एएसपी (सिटी) के सामने पेश कर दिया।

पीड़ित ने अफसरों के समक्ष पुनः गुहार लगाई, तो पीड़ित के न्यायालय में धारा- 164 के अंतर्गत बयान दर्ज करा दिए गये, उसे सुरक्षा भी दे दी गई एवं विवेचना बरेली स्थानांतरित कर दी गई। पीड़ित को अभी यह भी पता नहीं है कि बरेली में विवेचना अधिकारी किसे बनाया गया है, इसके बावजूद आरोपी को बहाल कर दिया गया है। पीड़ित भयभीत है और उसने मुख्यमंत्री से न्याय दिलाने की गुहार लगाई है।

रोमियो इंस्पेक्टर संत प्रसाद उपाध्याय।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

हादसे के बावजूद पीड़ित ने कोर्ट में दर्ज कराये बयान, रोमियो को मिली विशेष अनुमति

पीड़ित का चरित्र हनन कर रहा है रोमियो इंस्पेक्टर, डीआईजी ने दिया कड़ा आदेश

लड़की को मैसेज करने वाले रोमियो इंस्पेक्टर को डीआईजी ने किया निलंबित

रोमियो इंस्पेक्टर संत प्रसाद उपाध्याय के सह-आरोपी मुंशी सूरज पाल को बचाया

पीड़ित का बयान सुनने/देखने के लिए क्लिक करें लिंक

Leave a Reply