बुरी नज़र से बचाने की जगह पिता ने ही किया यौन उत्पीड़न

बुरी नज़र से बचाने की जगह पिता ने ही किया यौन उत्पीड़न
बुरी नज़र से बचाने की जगह पिता ने ही किया यौन उत्पीड़न
बुरी नज़र से बचाने की जगह पिता ने ही किया यौन उत्पीड़न

जो भले ही स्वयं भूखा सोये, पर अपने बच्चों को भूखा न सोने दे, वो पिता है। जो स्वयं नंगा रह ले, पर अपने बच्चों को नंगा न रहने दे, वो पिता है। जो जमाने भर के दुःख अपने ऊपर लेकर बच्चों को निश्चिंत रखे, वो पिता है। जो जमाने भर की बुरी नज़र से बच्चों को बचाये, वो पिता है, लेकिन बदायूं में एक ऐसा पिता है, जिसने अपने ही जिगर के टुकड़े का यौन उत्पीड़न कर दिया। बच्ची चार माह की गर्भवती भी बताई जा रही है। पुलिस ने मामला दर्ज कर दरिंदे पिता को जेल भेज दिया है।

दिल दहला देने वाली यह घटना बदायूं जिले में स्थित बिसौली कोतवाली क्षेत्र के गाँव कमालपुर के एक यादव परिवार की है। यहाँ के एक बहशी पिता ने अपनी ही पन्द्रह वर्षीय बच्ची का यौन उत्पीड़न किया है। वह छः महीने से बच्ची का लगातार यौन उत्पीड़न कर रहा था। पन्द्रह वर्षीय किशोरी चार माह की गर्भवती भी बताई जा रही है।

जानकारी तब हुई, जब बुधवार को किशोरी के पेट में दर्द हुआ। डॉक्टर को दिखाने पर खुलासा हुआ कि किशोरी गर्भवती है। यह जान कर पत्नी की आँखों में खून उतर आया, तो भयभीत दरिंदे पति ने माँ-बेटी को कमरे में बंद कर दिया और जान से मारने का भी प्रयास किया। किसी तरह बच निकलने के बाद पत्नी कोतवाली पहुंची और समूचे घटनाक्रम की जानकारी पुलिस को दी। यौन उत्पीड़न के बाद दरिंदा पिता लड़की को जान से मारने की धमकी देता था, जिससे डर-सहमी लड़की ने किसी को कभी कुछ नहीं बताया।

माँ की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपी पिता को गिरफ्तार कर जेल भी भेज दिया है, साथ ही किशोरी को मेडिकल परीक्षण के लिए जिला मुख्यालय भेजा है। घटना को लेकर लोग स्तब्ध हैं और हर कोई घटना की निंदा कर रहा है।

Leave a Reply