लोकप्रियता के शिखर पर पहुंच कर महोत्सव का समापन

लोकप्रियता के शिखर पर पहुंच कर महोत्सव का समापन
काव्य पाठ करते डॉ. विष्णु सक्सेना।
काव्य पाठ करते डॉ. विष्णु सक्सेना।

बदायूं स्थित यूनियन क्लब में आयोजित किये गये तीन दिवसीय स्मृति वंदन महोत्सव का अखिल भारतीय कवि सम्मेलन एवं मुशायरा के साथ लोकप्रियता के शिखर पर पहुंच कर शानदार समापन हो गया। समापन के अवसर पर भव्य पंडाल श्रोताओं से भरा हुआ था। शानदार आयोजन की हर कोई सराहना करता नजर आ रहा है।

अखिल भारतीय कवि सम्मेलन एवं मुशायरे की अध्यक्षता प्रोफेसर वसीम बरेलवी ने की एवं सफल संचालन डॉ. अशोक चक्रधर ने किया। श्रोताओं द्वारा डॉ. विष्णु सक्सेना के मुक्तक व गीत सर्वाधिक सराहे गये। अनामिका अम्बर, अनिल चौबे, अकील नोमानी, डॉ. अजय अटल और कमलेश शर्मा को भी श्रोताओं से खूब दाद मिली। जिलाधिकारी पवन कुमार ने भी काव्य पाठ किया और उनको जमकर सराहा गया, साथ ही स्थानीय कवि अरविंद धवल और विशाल गाफिल ने भी काव्य पाठ किया।

काव्य पाठ करते अनामिका अम्बर।
काव्य पाठ करते अनामिका अम्बर।
काव्य पाठ करते डॉ. अशोक चक्रधर।
काव्य पाठ करते डॉ. अशोक चक्रधर।

इससे पहले जिलाधिकारी पवन कुमार, सेवानिवृत न्यायमूर्ति वीरेंद्र सिंह और डॉ. यासीम उस्मानी ने कवि सम्मेलन एवं मुशायरे का विधिवत शुभारंभ किया। समारोह में नूर ककरालवी के साहब के दीवान चराग पलकों नाम की पुस्तक का विमोचन किया गया, इस दौरान एसएसपी महेंद्र सिंह यादव और एएसपी (सिटी) अनिल कुमार यादव के साथ अन्य तमाम पुलिस व प्रशासन के अफसर मौजूद रहे। अंत में स्मृति वंदन संस्था के संयोजक भानु यादव ने सभी का आभार व्यक्त किया।

काव्य पाठ करते प्रोफेसर वसीम बरेलवी।
काव्य पाठ करते प्रोफेसर वसीम बरेलवी।

संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

बॉडी बिल्डिंग शो का आयोजन और अधिक होना चाहिए: ब्रजेश

महोत्सव में पंकज उदास की गीत और गजलों पर झूम उठे श्रोता

 

Leave a Reply