अब ऑनलाइन कर सकते हैं ड्राइविंग लाइसेंस का आवेदन

अब ऑनलाइन कर सकते हैं ड्राइविंग लाइसेंस का आवेदन
लखनऊ में ट्रांसपोर्ट नगर स्थित आर.टी.ओ. कार्यालय में पायलट प्रोजेक्ट के रूप में ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त करने हेतु आवेदन करने एवं फीस जमा करने सम्बन्धी प्रक्रिया की ऑन लाइन सेवा का शुभारंभ परिवहन मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव एवं साथ में मौजूद हैं के. रवीन्द्र नायक।
लखनऊ में ट्रांसपोर्ट नगर स्थित आर.टी.ओ. कार्यालय में पायलट प्रोजेक्ट के रूप में ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त करने हेतु आवेदन करने एवं फीस जमा करने सम्बन्धी प्रक्रिया की ऑन लाइन सेवा का शुभारंभ परिवहन मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव एवं साथ में मौजूद हैं के. रवीन्द्र नायक।
उत्तर प्रदेश के परिवहन मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव ने आज लखनऊ में ट्रांसपोर्ट नगर स्थित आर.टी.ओ. कार्यालय में पायलट प्रोजेक्ट के रूप में ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त करने हेतु आवेदन करने एवं फीस जमा करने सम्बन्धी प्रक्रिया की ऑन लाइन सेवा का शुभारम्भ किया। इस प्रक्रिया के शुरू हो जाने से लखनऊ वासियों को घर बैठे आवेदन करने की सुविधा प्राप्त हो सकेगी। आॅनलाइन सेवा से डी.एल. प्राप्त करने वाली पहली लाभार्थी विजय लक्ष्मी तिवारी बनीं।
आॅन लाइन सेवा की शुरूआत करते हुए परिवहन मंत्री ने कहा कि सरकार का प्रयास है कि डी.एल. के लिये आॅन लाइन सेवा की शुरुआत सभी जनपदों में शीघ्र हो सके। इससे न केवल जनता को कार्यालय आकर आवेदन करने एवं फीस जमा करने के लिये लाइन में खड़े होने से मुक्ति मिल सकेगी, बल्कि इस कार्य में लगने वाले समय की भी बचत होगी। उन्होंने कहा कि लखनऊ में इसके सफल क्रियान्वयन के फलस्वरूप इसे चरणबद्ध ढंग से प्रदेश के सभी जनपदों में लागू किया जाएगा, जिससे दलालों की भूमिका पर प्रभावी अंकुश लग सकेगा। उन्होंने कहा कि समय का महत्व देखते हुए ऑन लाइन आवेदकों को केवल बायोमैट्रिक्स कैप्चरिंग तथा लर्निंग तथा ड्राइविंग टेस्ट के लिये ही कार्यालय में उपस्थित होना होगा, तथा इसके लिये भी उन्हें प्राथमिकता दी जायेगी।
इस अवसर पर परिवहन आयुक्त के. रविन्द्र नायक ने कहा कि ऐसे व्यक्ति जिनके पास जनपद लखनऊ के निवासी होने का अनुमन्य ‘‘निवासी प्रमाण-पत्र’’ उपलब्ध है, के द्वारा ऑन लाइन आवेदन किया जा सकेगा। अनुमन्य निवास प्रमाण-पत्र की जानकारी परिवहन विभाग की से प्राप्त की जा सकती है। ऑन लाइन आवेदन के लिए आवेदक को वेबसाइट पर जाना होगा, तथा सर्वप्रथम वेबसाइट पर दिये गये निर्देशों को ध्यान से पढ़ना आवश्यक है। इस वेबसाइट पर दिये गये मीनू में लर्निंग लाइसेंस के लिये ‘‘इश्यू आॅफ ए लर्निंग लाइसेंस’’ तथा स्थायी ड्राइविंग लाइसेंस के लिये ‘‘इश्यू आॅफ ए ड्राइविंग लाइसेंस’’ पर क्लिक करना होगा। इन मीनू पर क्लिक करने से ऑन लाइन आवेदन फार्म प्रदर्शित होगा, जिसे सही-सही भरकर आवेदक को सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा। इसके बाद फीस जमा करने हेतु ‘‘नेक्स्ट स्टेप’’ बटन पर क्लिक करने पर स्टेट बैंक आॅफ इण्डिया का पेमेंट गेटवे ओपेन होगा, जिसके माध्यम से आवेदक स्टेट बैंक सहित अधिकांश सरकारी/गैर सरकारी बैंकों के नेट बैंकिंग एवं डेबिट/क्रेडिट कार्ड्स के द्वारा लाइसेंस की फीस ऑन लाइन जमा कर सकेंगे। फीस पेमेंट के बाद आवेदक को उसकी ई-रसीद प्रिंट करना आवश्यक होगा। फीस पेमेंट सफल होने पर आवेदन पूर्ण होने की सूचना एस.एम.एस. के माध्यम से आवेदक के मोबाइल नम्बर पर स्वतः आ जायेगी।
इस प्रक्रिया को पूर्ण करने के पश्चात आवेदक ऑन लाइन भरे हुए आवेदन को प्रिंट कर, ई-रसीद तथा अन्य आवश्यक प्रपत्रों (यथा-निवास प्रमाण पत्र, जन्मतिथि प्रमाण-पत्र) के साथ बायोमैट्रिक्स कैप्चरिंग (थम्ब इम्प्रेशन, फोटो एवं सिग्नेचर कैप्चरिंग) तथा लर्निंग/ड्राइविंग टेस्ट के लिये या तो सीधे परिवहन कार्यालय में उपस्थित हो सकते हैं, अथवा अपनी सुविधानुसार इस वेबसाइट पर ‘‘एप्वाइंटमेंट फाॅर स्लाॅट बुकिंग’’ को क्लिक कर अपने लिए इच्छित तिथि व समय का स्लाट ऑन लाइन बुक कर परिवहन कार्यालय जा सकते हैं। आॅन लाइन आवेदन पत्र के ‘‘पार्ट-सी: एनक्लोजर सेक्शन’’ में अंकित किये गये जन्मतिथि व निवास प्रमाण पत्र की मूल प्रति ही प्रपत्रों की जांच के समय कार्यालय में प्रस्तुत करना होगा। आवेदकों की सुविधा के लिये ऑन लाइन आवेदन भरने की प्रक्रिया इस वेबसाइट के ‘‘हेल्प फाॅर ऑन लाइन एल एल एप्लीकेशन’’ पर भी उपलब्ध है। इस अवसर पर परिवहन आयुक्त डाॅ. राजेन्द्र प्रसाद, उप परिवहन आयुक्त ए.के. पाण्डेय, एन.आई.सी. के तकनीकी निदेशक डाॅ. वाई.के. सिंह के अलावा अन्य सम्बन्धित अधिकारी भी उपस्थित थे।

Leave a Reply