अब दिल्ली पर कब्जा करना है: मुलायम

अब दिल्ली पर कब्जा करना है: मुलायम
महाधरने के अवसर पर बोलते राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव, सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव व नीतीश कुमार।
महाधरने के अवसर पर बोलते राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव, सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव व नीतीश कुमार।

जनता परिवार ने शीत लहर में भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के माथे पर पसीने की बूंदे ला दी होंगी। समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के नेतृत्व में सोमवार को जनता परिवार ने दिल्ली के जंतर-मंतर पर महाधरना दिया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व केंद्र सरकार पर तीखे प्रहार किये। मुलायम सिंह यादव ने दिल्ली पर कब्जा करने की भी बात कही।

महाधरने में जनता दल (यू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव व नीतीश कुमार, राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू प्रसाद यादव, जनता दल (एस) के अध्यक्ष एच.डी. देवेगौड़ा, इनेलो की ओर से दुष्यंत चौटाला और सजपा की ओर से कमल मोरारका मौजूद रहे। इस दौरान मुलायम सिंह यादव ने धर्मांतरण को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि आगरा का प्रकरण तो अभी शुरूआत है, यह लोग ऐसे आयोजन देशभर में करने की तैयारी कर रहे हैं। उन्होंने चेतावनी देने के अंदाज़ में कहा कि हम उत्तर प्रदेश जैसे विशाल राज्य में हैं और अब दिल्ली पर कब्जा करना है, हम यूपी और बिहार तक सीमित नहीं रहेंगे।

लालू प्रसाद यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चुनावी वादों पर कटाक्ष किये। लालू ने कहा कि रामदेव कहां हैं, उनसे कहो कि नरेंद्र मोदी का हिसाब गड़बड़ा रहा है, आकर उनका हिसाब-किताब ठीक कराओ। एक महीना हुआ, दो महीना हुआ, छह महीना हो गया है, पैसा कहां है, पैसा लाओ। उन्होंने कहा कि लोगों ने बहकावे में आकर वोट दिए हैं। उन्होंने धर्मांतरण के मुददे पर कहा कि कौन माई का लाल है, जो इस देश से मुसलमानों को बाहर कर दे। बोले- आजादी के संघर्ष में अल्पसंख्यकों ने भी अपना योगदान दिया था। उन्होंने मोदी सरकार पर देश को धर्म के नाम पर बांटने के प्रयास करने का भी आरोप लगाया। लालू प्रसाद यादव ने यह भी कहा कि जनता परिवार का झंडा अब एक होगा और मुलायम हमारे नेता हैं।

कड़कड़ाती ठंड में नीतीश कुमार केंद्र सरकार पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि भाजपा ने पहले झूठे वादे किये और अब लोगों का ध्यान भटका रही है। नीतीश ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री ने चुनाव से पहले देशभर में चुनाव प्रचार कर काला धन वापस लाने की बात कही थी, लेकिन अब उन वादों का क्या हुआ। कालेधन के मुददे पर मोदी अपने वादे से पलट गए। हर आदमी के अकाउंट में पैसे की बात थी, लेकिन वास्तविकता में ऐसा कुछ नहीं हुआ। उन्होंने नरेंद्र मोदी का रिकार्ड किया हुआ ‘मन की बात’ भाषण का ऑडियो भी सुनाया। किसानों से छल करने का आरोप लगाते हुए कहा कि वादा किया था कि अनाज का समर्थन मूल्य लागत मूल्य से पचास प्रतिशत अधिक दिया जाएगा, लेकिन अब तक कुछ नहीं हुआ। नीतीश कुमार ने कहा कि मोदी सरकार देश को बांटने की साजिश कर रही है, पैसे देकर धर्मांतरण कराया जा रहा है।

महाधरने में समाजवादियों का सैलाब नजर आया, जिसे देख कर सपा सुप्रीमो खुश नजर आये। जनता परिवार की एकजुटता बरकरार रही, तो आने वाले समय में जनता परिवार भाजपा के लिए कड़ी चुनौती दे सकता है। जनता परिवार को लेकर भाजपा ही नहीं, बल्कि कांग्रेस भी चिंतित नजर आ रही है।

Leave a Reply