भाजपा नेता की पत्नी के नाम से फर्जी खबर छाप कर फंस चुका है भ्रष्ट जगमोहन

भाजपा नेता की पत्नी के नाम से फर्जी खबर छाप कर फंस चुका है भ्रष्ट जगमोहन
भ्रष्ट ब्यूरो चीफ जगमोहन शर्मा

बदायूं स्थित हिन्दुस्तान कार्यालय में तैनात भ्रष्ट ब्यूरो चीफ जगमोहन शर्मा के और भी कई तरह के कारनामे खुलने लगे हैं। भाजपा नेता की पत्नी के नाम से फर्जी खबर छाप कर जगमोहन फंस चुका है। शिकायत पर प्रबंधन ने कार्रवाई नहीं की, तो पीड़ित ने न्यायालय की शरण में जाने की तैयारी शुरू कर दी, जिसकी भनक लगने पर जगमोहन ने माफी मांग ली और फिर दबाव के चलते भाजपा नेता की खबरें प्रमुखता से छापने लगा।

बताते हैं कि भ्रष्ट जगमोहन शर्मा ने चेयरमैन पर दबाव बनाने के उद्देश्य से सभासद गीता देवी के नाम से 21 मई और 22 मई 2015 को लगातार फर्जी खबरें प्रकाशित की थीं। खबर पढ़ कर गीता देवी स्तब्ध रह गईं, उन्होंने समूह संपादक शशि शेखर को पत्र भेज कर शिकायत की, लेकिन सेटिंग के चलते जगमोहन के विरुद्ध कार्रवाई नहीं हुई।

प्रबंधन द्वारा कार्रवाई न करने पर गीता देवी ने न्यायालय की शरण में जाने की तैयारी शुरू कर दी, जिसकी भनक किसी तरह जगमोहन को लग गई, तो उसने माफी मांग ली, इसके बाद गीता देवी के पति भाजपा नेता अनूप सिंह की खबरें प्रमुखता से छापने लगा। सूत्रों का कहना है कि अनूप सिंह अपने मोबाईल से अपना फोटो वाट्सएप पर जगमोहन को भेज देते थे, तो जगमोहन उसी फोटो को छाप देता था।

गीता देवी द्वारा शपथ पत्र के द्वारा शिकायत की गई थी, जिसे हिन्दुस्तान प्रबंधन ने गंभीरता से नहीं लिया।

प्रबंधन ने समय रहते जगमोहन को हटा दिया होता, तो हिन्दुस्तान की खबरों पर पाठकों का विश्वास बना रहता। अब हालात इतने खराब हो चुके हैं कि हिन्दुस्तान में किसी की प्रशंसा छपे, तो पाठक ही टिप्पणी करते हैं कि इस खबर को रूपये लेकर छापा गया होगा। जगमोहन के रहते हिन्दुस्तान के प्रति पाठकों का विश्वास लौटना अब नामुमकिन है।

यहाँ यह भी बता दें कि भ्रष्ट ब्यूरो चीफ जगमोहन शर्मा के क्रिया-कलापों से तंग आकर पहले तेजतर्रार रिपोर्टर ओमेन्द्र सिंह ने त्याग पत्र दिया, इसके बाद 9 जनवरी को अभिषेक सक्सेना, हरीश कुमार और अरविंद सिंह ने सामूहिक त्याग पत्र दे दिया, जिससे हड़कंप मच गया।

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

भ्रष्ट ब्यूरो चीफ नेताओं से लिखवा रहा है खबरें, दागी को बनाया फोटोग्राफर

भ्रष्ट ब्यूरो चीफ से तंग आकर हिन्दुस्तान से पत्रकारों ने दिए सामूहिक त्याग पत्र

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

Leave a Reply