मुख्यमंत्री ने विभिन्न परियोजनाओं का निरीक्षण किया

मुख्यमंत्री ने विभिन्न परियोजनाओं का निरीक्षण किया
 

लखनऊ विकास प्राधिकरण (एल.डी.ए.) की एक परियोजना का आकस्मिक निरीक्षण करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव।
लखनऊ विकास प्राधिकरण (एल.डी.ए.) की एक परियोजना का आकस्मिक निरीक्षण करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज लखनऊ विकास प्राधिकरण (एल.डी.ए.) की विभिन्न परियोजनाओं का आकस्मिक निरीक्षण किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सतर्कता अधिष्ठान के औपचारिक कार्यक्रम में शामिल होने के बजाए विभागों द्वारा किए जा रहे कार्याें की गुणवत्ता सीधे जानने एवं परखने से राज्य की विकास योजनाओं को गति मिलेगी। उन्होंने कहा कि विकास परियोजनाओं में निर्धारित समय सीमा एवं गुणवत्ता का पालन किया जाना चाहिए। उन्होंने आगाह किया कि दायित्वों की उपेक्षा करने वाले अधिकारियों एवं कर्मचारियों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जाएगी।
उल्लेखनीय है कि गोमती नगर विस्तार योजना में लखनऊ विकास प्राधिकरण द्वारा वर्ष 2011 में पूर्ण किए गए रिवर व्यू अपार्टमेंट फेज-1 में कब्जा हस्तान्तरण को लेकर समाचार पत्रों में प्रकाशित खबर का संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री ने आज इस योजना के अन्तर्गत स्थित सरस्वती अपार्टमेंट का आकस्मिक दौरा किया।
सरस्वती अपार्टमेंट के निवासियों ने इन भवनों की विभिन्न समस्याओं से मुख्यमंत्री को अवगत कराया। उन्होंने भवन के बेसमेन्ट में स्थित पार्किंग एरिया में जल रिसाव की समस्या का स्थलीय निरीक्षण भी किया। निर्माणकर्ता कम्पनी एल0 एण्ड टी0 द्वारा किए गए त्रुटिपूर्ण निर्माण के फलस्वरूप बेसमेंट में हो रहे जल रिसाव पर मुख्यमंत्री ने अप्रसन्नता व्यक्त की और एल0 एण्ड टी0 के अधिकारियों को निर्माण की कमियों को तुरन्त दूर करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने जिलाधिकारी लखनऊ को निर्देशित किया कि वे आवंटियों की समस्याओं को एकत्र करें। उन्होंने एल0डी0ए0 को इन समस्याओं के तत्काल निराकरण के कड़े निर्देश दिए।
ज्ञातव्य है कि लखनऊ विकास प्राधिकरण में प्रचलित प्रक्रिया के अनुसार भवनों के आवंटी की रजिस्ट्री होने के उपरान्त सम्बन्धित निर्माण एजेन्सी द्वारा भवनों में फाइनल कोट पेंटिंग, सैनेटरी फिटिंग्स व इलेक्ट्रिकल फिटिंग लगाने तथा डोर/विन्डो फिक्चर्स लगाने एवं अन्य फिनिशिंग कार्य पूर्ण कराए जाते हैं। इस प्रक्रिया में निर्माण एजेन्सी को सामान्यतः 15 दिन का समय लगता है।
सरस्वती अपार्टमेंट के एक आवंटी के विषय में एल0डी0ए0 के अधिकारियों ने सूचित किया कि उन्होंने अपने फ्लैट संख्या-डी 603 की रजिस्ट्री 2 जुलाई, 2014 को कराई है। अतः मेसर्स एल0 एण्ड टी0 लिमिटेड द्वारा फ्लैट के फिनिशिंग कार्य पूर्ण कर आवंटी को फ्लैट का कब्जा हस्तान्तरित किए जाने के लिए 15 दिन का समय सूचित किया गया, जिसे आवंटी द्वारा स्वीकार कर लिया गया है। आवंटी द्वारा यह भी अवगत कराया गया है कि फ्लैट की रजिस्ट्री व कब्जे की कार्यवाही के सम्बन्ध में उनके द्वारा किसी भी प्रकार की कोई शिकायत या अप्रसन्नता व्यक्त नहीं की गई है।
ज्ञातव्य है कि रिवर व्यू अपार्टमेंट फेज-1 में मेसर्स एल0 एण्ड टी0 लि0 द्वारा कुल 1245 फ्लैट निर्मित किए गए हैं। इनका निर्माण अक्टूबर, 2011 में पूर्ण किया जा चुका है। रिवर व्यू अपार्टमेंट फेज-1 में निर्मित 1245 फ्लैट में से 1060 फ्लैट्स का कब्जा आवंटियों को दिया भी जा चुका है।
मुख्यमंत्री द्वारा जनेश्वर मिश्र पार्क के विकास कार्यों का भी निरीक्षण किया गया। पार्क के विकास की धीमी गति पर उन्होंने अप्रसन्नता व्यक्त की एवं औद्यानिक विकास के कार्य प्राथमिकता पर कराए जाने तथा वाटरबाॅडी के विकास का कार्य शीघ्र पूर्ण कराए जाने के निर्देश भी दिए।

Leave a Reply