कटरा सआदतगंज कांड में सीबीआई की पहली हार

कटरा सआदतगंज कांड में सीबीआई की पहली हार
बहस के बाद न्यायालय से बाहर आते सीबीआई टीम के सदस्य व वकील।
बहस के बाद न्यायालय से बाहर आते सीबीआई टीम के सदस्य व वकील।

दुनिया भर में चर्चित बदायूं के कटरा सआदतगंज कांड में पाक्सो कोर्ट में सीबीआई की पहली हार हो गई है। क्लोजर रिपोर्ट और मेडिकल रिपोर्ट से संबंधित समस्त साक्ष्य पीड़ित पक्ष को दो दिन के अंदर सीबीआई को देने होंगे। कोर्ट ने पीड़ित पक्ष को भी एक सप्ताह के अंदर प्रोटेस्ट रिपोर्ट दाखिल करने का समय दिया है। इस प्रकरण की सुनवाई अब 11 फरवरी को होगी।

उल्लेखनीय है कि कटरा सआतदगंज प्रकरण में सीबीआई ने गहन जाँच के बाद सभी नामजद आरोपियों को मुक्त कर दिया है एवं मृतकाओं के परिजनों पर झूठी एफआईआर कराने का आरोप सिद्ध कर न्यायालय में रिपोर्ट दाखिल कर दी थी, साथ ही क्लोजर रिपोर्ट से संबंधित साक्ष्य व रिपोर्ट की प्रति परिजनों को नहीं दी थी। परिजनों ने न्यायालय में साक्ष्य व रिपोर्ट दिलाने की गुहार लगाई थी, जिसे सीबीआई ने यह कहते हुए ठुकरा दिया कि परिजन स्वयं आरोपी हैं, ऐसे में उन्हें वह साक्ष्य व रिपोर्ट नहीं देगी। दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद आज न्यायालय ने आदेश दिया कि सीबीआई दो दिनों के अंदर पीड़ित पक्ष को कागजात उपलब्ध कराये, साथ ही पीड़ित पक्ष से एक सप्ताह के अंदर प्रोटेस्ट रिपोर्ट दाखिल करने को कहा है। न्यायालय का यह आदेश सीबीआई की हार के रूप में देखा जा रहा है। न्यायालय के आदेश से फिलहाल परिजन खुश हैं। बता दें कि सोमवार को न्यायालय में इस प्रकरण में अंतिम बहस हुई थी।

सीबीआई की नजर में कटरा सआदतगंज कांड का सच कुछ और

बदायूं कांड के घटनाक्रम को एक बार फिर तस्वीरों में देखें

Leave a Reply