बाबू अक्षत ने बसपा के रंग में छपवाये सरकारी कार्यक्रम के निमंत्रण पत्र

बाबू अक्षत ने बसपा के रंग में छपवाये सरकारी कार्यक्रम के निमंत्रण पत्र
गुरुवार को होने वाले कार्यक्रम का अक्षत अशेष द्वारा छपवाया गया निमंत्रण पत्र एवं नीचे 8 सितंबर को हुए कार्यक्रम का निमंत्रण पत्र।
बदायूं का कुख्यात सपाई बाबू अक्षत अशेष फिर असली रंग में आने लगा है। प्रशासनिक अफसरों की तो बात ही छोड़िये, जिले के प्रभारी मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य के कार्यक्रम में भी हस्तक्षेप करने लगा है। सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग द्वारा गुरुवार को बदायूं क्लब में अन्त्योदय मेला, प्रदर्शनी एवं रोगियों को देखने के लिए चिकित्सा शिविर आयोजित किया जाएगा, इस कार्यक्रम का संपूर्ण दायित्व अक्षत अशेष ने हमेशा की तरह हथिया लिया है। बताते हैं कि क्लब में होने वाले कार्यक्रम को लेकर अक्षत अशेष की पहली शर्त यही रहती है कि वह संचालन करेगा और भोजन से लेकर अन्य सभी व्यवस्थायें भी देखेगा, इस कार्यक्रम के निमंत्रण पत्र अक्षत अशेष द्वारा ही छपवाये गये हैं, जो बसपा के रंग में होने के चलते चर्चा का विषय बने हुए हैं। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य रहेंगे, इसलिए लोग निमंत्रण पत्र देख कर यह कहते दिख रहे हैं कि अक्षत अशेष को लग रहा होगा कि स्वामी प्रसाद मौर्य अभी बसपा में ही हैं, तभी उन्हें खुश करने के लिए बसपा के रंग में निमंत्रण पत्र छपवा दिए, जबकि स्वामी प्रसाद मौर्य अब भाजपा में हैं। सूत्रों का कहना है कि एडीएम (प्रशासन) सपा के कार्यकाल से ही जमे हुए हैं, इसीलिए उन्होंने सपाई अक्षत अशेष को गुरुवार को होने वाले कार्यक्रम में मनमानी करने की मौखिक अनुमति दे दी है।
उल्लेखनीय है कि प्रदेश के श्रम समन्वय एवं सेवायोजन मंत्री/जनपद के प्रभारी मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य आज 21 सितम्बर गुरुवार को पूर्वान्ह 11: 15 बजे तीन दिवसीय अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी का फीता काटकर उद्घाटन करेंगे। पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जन्म शताब्दी के उपलक्ष्य में मेला एवं प्रदर्शनी में विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किए जायेंगे। कार्यक्रम में जनता को प्रदेश सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की जानकारी के साथ ही विभिन्न विभागों की प्रदर्शनी लगाई जाएगी। मेला एवं प्रर्दशनी में सूचना विभाग से पंजीकृत दलों के विभिन्न प्रकार के मैजिक शो, कव्वाली एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए जाएंगे। मेले में चिकित्सा स्वास्थ्य शिविर का भी आयोजन किया जाएगा, जिसमें आने वाले मरीजों को दवाएं एवं अन्य चिकित्सकीय सुविधाएं मुफ्त दी जाएंगी। दूसरे दिन भी अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी लगी रहेगी। तत्पश्चात कार्यक्रम के अंतिम दिन सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले स्कूली बच्चों को प्रमाण पत्र वितरित किए जाएंगे।
उक्त कार्यक्रम को लेकर बताया जा रहा है कि प्रदर्शनी, कार्यक्रम, नाटक और प्रमाण पत्र वितरण तक का काम अक्षत अशेष ही संभाल रहा है, जिसके बारे में कहा जाता है कि वह अपनों को ही रेवड़ियाँ बांटता है, इसे योग्यता से कोई मतलब नहीं है। अक्षत अशेष के रहते कार्यक्रम में शामिल होने वाले योग्य बच्चों का नुकसान हो सकता है। यह भी बता दें कि क्लब में पिछले कई दिनों से जादूगर का शो चल रहा है, जिसे क्लब का मैदान कितने रूपये में दिया गया, यह किसी को नहीं पता। अक्षत अशेष ने क्लब को कब्जा रखा है और पैतृक संपत्ति की तरह प्रयोग कर रहा है। लेखा-जोखा भी नहीं रखता। क्लब को विभिन्न कार्यक्रमों से प्रति वर्ष लाखों रुपयों की आमदनी होती है, जिसे अक्षत अपनी अय्याशी पर उड़ा देता है।
(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply