सपा विधायक के गाँव में दलित किशोरियों का यौन उत्पीड़न

सपा विधायक के गाँव में दलित किशोरियों का यौन उत्पीड़न
थाना जरीफनगर क्षेत्र के गाँव सिंगौला में जाटव परिवार की तीन किशोरियों के साथ हुये यौन उत्पीड़न की घटना की जांच की औपचारिकतायें पूरी करते पुलिस कर्मी और किसी को मोबाइल पर घटना की जानकारी देता एक पुलिस कर्मी।
थाना जरीफनगर क्षेत्र के गाँव चिरवारी में जाटव परिवार की तीन किशोरियों के साथ हुये यौन उत्पीड़न की घटना की जांच की औपचारिकतायें पूरी करते पुलिस कर्मी और किसी को मोबाइल पर घटना की जानकारी देता एक पुलिस कर्मी।

बदायूं जिले में यौन उत्पीड़न की वारदातें थम नहीं रही हैं। यौन उत्पीड़न के अधिकांश मामलों में पुलिस आरोपियों का साथ देती नज़र आती है, इसलिए मानसिक तौर पर विकृत और दबंग दुस्साहसी होते जा रहे हैं। कटरा सआदतगंज की घटना का अभी खुलासा नहीं हुआ है और न ही सपा विधायक के संरक्षण में हुआ दलित किशोरी के यौन उत्पीड़न का प्रकरण थमा है, ऐसे में सहसवान क्षेत्र के सपा विधायक ओमकार सिंह यादव के गाँव सिंगौला में भी तीन लड़कियों के विरुद्ध यौन उत्पीड़न की घटना घटित हो गई है। पुलिस ने छेड़छाड़ और मारपीट की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर आरोपियों पर पाक्सो व एससी एक्ट भी लगाया है। घटना को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हो रही हैं। पीड़ित पक्ष अभी मौन है, इसलिए बहुत अधिक जानकारी नहीं मिल पा रही है।

बदायूं मुख्यालय से करीब 60 किमी दूर दिल्ली हाईवे के किनारे बसे थाना जरीफनगर क्षेत्र के गाँव सिंगौला में शनिवार की शाम गाँव चिरवारी निवासी एक जाटव परिवार की तीन किशोरियों का दबंग यादवों के लड़कों ने यौन उत्पीड़न किया और बाद में किशोरियों व उनके परिजनों को बेरहमी से पीटा। पुलिस ने अजय पाल यादव, वीरपाल यादव और उपनेश यादव के विरुद्ध छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज किया है, इन पर पाक्सो एक्ट भी लगाया है, वहीं इन तीनों के साथ सूरज यादव, रोशन सिंह यादव, कर्रू यादव व कश्मीरी यादव पर मारपीट की धारायें लगाते हुये सभी पर हरिजन एक्ट भी लगाया है।

उधर सूत्रों का कहना है कि पुलिस ने पीड़ित पक्ष की वीडियो रिकार्डिंग भी की है। सूत्र का यह भी कहना है कि घटना को लेकर कई तरह की चर्चाएं की जा रही हैं, लेकिन पीड़ित परिवार पूरी तरह मौन है, जिससे स्पष्ट कुछ नहीं कहा जा सकता, इसलिए कयास लगाए जा रहे हैं कि सच एक-दो दिन में सामने आ सकता है। यह भी बताया जा रहा है कि तीन किशोरियों में दो सगी चचेरी-तहेरी बहनें हैं, जो नाबालिग हैं एवं तीसरी लड़की बालिग है, जो रिश्तेदार है और बुलंदशहर जिले की रहने वाली है। यहाँ यह भी बता दें जरीफनगर के एसओ राजवीर सिंह यादव बसपा सरकार के समय इसी क्षेत्र में चौकी इंचार्ज थे और सपा सरकार आने के बाद उन्हें जरीफनगर थाने का एसओ बना दिया गया, तब से वह लगातार एसओ हैं, जबकि अन्य सभी थाना क्षेत्रों में अदला-बदली हो चुकी है।

संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

दबाव में पुलिस ने ही किया दलित यौन पीड़िता का उत्पीड़न

अगवा कर दुष्कर्म के बाद यादवों पर बहनों की हत्या का आरोप

यूपी बना रेपिस्तान, बदायूं में दुष्कर्म की एक और वारदात

एक और सिपाही पर लगा गैंग रेप का आरोप, सीओ करेंगे जांच

Leave a Reply