5748 लापता लोगों के परिजनों को मिलेगा मुआवजा

5748 लापता लोगों के परिजनों को मिलेगा मुआवजा
5748 लापता लोगों के परिजनों को मिलेगा मुआवजा
5748 लापता लोगों के परिजनों को मिलेगा मुआवजा

उत्तराखंड के केदारनाथ में आई भीषण प्राकृतिक आपदा में लापता लोगों को लेकर असमंजस की स्थिति बरकरार है। मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा का कहना है कि 5748 लोग अभी भी लापता है, जिनमें 924 लोग उत्तराखंड के हैं, साथ ही उन्होंने कहा कि अब लापता लोगों के परिजनों को मुआवजा देने की प्रक्रिया शुरू कर दी जायेगी।

मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा ने इससे पहले लापता लोगों के निश्चित समय सीमा के अंदर न मिलने पर मृत मान लेने की घोषणा की थी, जिसकी समय सीमा आज सोमवार को खत्म हो गई। उन्होंने आज कहा कि अब मृतकों के आश्रितों को मुआवजा देने की प्रक्रिया शुरू कर दी जायेगी, लेकिन लापता लोगों को खोजने का क्रम जारी रहेगा और अगर, कोई बाद में मिल जाता है, तो उसके आश्रितों को मुआवजा राशि वापस करनी होगी। प्रत्येक लापता के परिजनों को प्रधानमंत्री राहत कोष से दो लाख और राष्ट्रीय आपदा निधि से डेढ़ लाख रुपए दिये जायेंगे, साथ ही आपदा में मारे गए उत्तराखंड वासियों को उत्तराखंड सरकार अलग से डेढ लाख रुपये भी देगी।