हाई प्रोफाइल ड्रामे के बाद आईबीएल का विवाद थमा

हाई प्रोफाइल ड्रामे के बाद आईबीएल का विवाद थमा
  • दिल्ली स्पैमर्श के साथ जुड़ी रहेंगी ज्वाला गुट्टा
  • दिल्ली स्पैमर्श की सानिया मिर्जा हैं ब्रांड एंबेसडर
टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्ज़ा का फाइल फोटो।
टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्ज़ा का फाइल फोटो।

शुरू होने से पहले ही आईपीएल की तरह आईबीएल में भी विवाद शुरू हो गये हैं। महिला डबल्स को लीग से हटा कर पुरुष सिंगल शामिल करने को लेकर विवाद खड़ा हो गया है, साथ ही महिला डबल्स की तुलना में पुरुष सिंगल को अधिक दाम दिये गये हैं।

उल्लेखनीय है कि कॉमनवेल्थ खेलों में महिला डबल्स की चैंपियन ज्वाला गुट्टा और अश्विनी पोनप्पा को छः आइकन खिलाड़ियों में शामिल किया गया था, लेकिन आखिरी पलों में उनका बेस रेट 50,000 डॉलर से घटाकर 25,000 डॉलर कर दिया गया था। दोनों स्टार खिलाड़ियों ने आईबीएल के इस फैसले को असम्मान जनक और निराशाजनक करार दिया। ज्वाला को क्रिश दिल्ली स्मैशर्स ने 31,000 डॉलर और अश्विनी को पुणे पिस्टन ने 25,000 डॉलर में खरीदा। कॉमनवेल्थ खेलों में महिला डबल्स की चैंपियन ज्वाला और अश्विनी इसी बात पर झल्ला गईं कि महिला डबल्स को इस लीग से हटाकर एक और पुरुष सिंगल्स को इसमें शामिल क्यों किया गया?

अश्विनी की डबल्स पार्टनर रह चुकी प्रदन्या गादरे और तरुन कोना को 10,000 डॉलर और 15,000 डॉलर के बेस प्राइस के मुकाबले 46,000 डॉलर और 28,000 डॉलर ऑफर किए गए, जबकि साइना नेहवाल को हैदराबाद की टीम ने 72 लाख रुपये में और विश्व की नंबर एक खिलाड़ी ली चॉन्ग वी को मुंबई की टीम ने करीब 81 लाख रुपये में खरीदा। 22 जुलाई को हुई नीलामी के दौरान आयोजकों ने 6 में से 2 आयकन खिलाड़ियों- ज्वाला और अश्विनी पोनप्पा के लिए नियमों में बदलाव किया और इनकी आधार कीमत कम कर दी, साथ ही इन खिलाड़ियों को पहले चरण की नीलामी में किसी टीम ने खरीदा भी नहीं, क्योंकि फ्रेंचाइजी सबसे पहले सिंगल्स के खिलाड़ियों पर दांव लगाना चाहते थे, ये दोनों ही डबल्स की खिलाड़ी हैं। दोनों खिलाड़ियों की नाराजगी को देखते हुए आईबीएल ने ये भरोसा दिया है कि इनके नुकसान की भरपाई कर दी जाएगी। इसके तहत ज्वाला को आईबीएल अपनी ओर से 19 हजार और पोनप्पा को 25 हजार डॉलर दिये जायेंगे। 48 घंटे तक चले इस हाई प्रोफाइल ड्रामे के बाद ज्वाला गुट्टा ने कहा कि विवादों के बावजूद वो आईबीएल में खेलना जारी रखेंगी, साथ ही कहा कि वो दिल्ली स्मैशर्स से जुड़कर बेहद खुश हैं।

बदायूं निवासी वागीश पाठक की टीम है दिल्ली स्पैमर्श

दिल्ली स्मैशर्स के मालिक बदायूं निवासी वागीश पाठक और अमित कत्याल हैं। वागीश पाठक भारतीय ओलंपिक संघ के भी सदस्य हैं। दिल्ली स्मैशर्स के लिए सानिया मिर्जा को ब्रांड एंबेसडर बनाया गया है। आईबीएल लीग का आगाज 15 अगस्त से होगा और 31 अगस्त तक चलेगा, जिसमें दिल्ली स्मैशर्स के अलावा मुंबई मास्टर्स, हैदराबाद हाट शाट्स, लखनऊ वारियर्स, पुणे पिस्टन्स और वंगा वीट्स टीमें भाग लेंगी।

One Response to "हाई प्रोफाइल ड्रामे के बाद आईबीएल का विवाद थमा"

  1. P pandey   July 30, 2013 at 8:05 AM

    I have seen you this post, Truly it unable to identified the cover image :(.Please take care before post.now your web -site is in internationally watch.

    Reply

Leave a Reply