समिति की बैठक में मेनका ने दिखाये कड़े तेवर

समिति की बैठक में मेनका ने दिखाये कड़े तेवर

  • 15 दिन में सड़क निर्माण शुरू कराने की मोहलत
  • मनरेगा से लगाए गए एक लाख पौधों की होगी जांच
  • सांसद मेनका गांधी के रहे निशाने पर रहे प्रमुख विभाग
विकास भवन स्थित सभागार में बैठक लेतीं सांसद मेनका गांधी
विकास भवन स्थित सभागार में बैठक लेतीं सांसद मेनका गांधी

बदायूं में सड़क निर्माण, फूंके ट्रांसफर्मर को लम्बे समय तक न बदलने, इन्दिरा आवास निर्माण में दोषियों के खिलाफ ठोस कार्रवाई न होने, विकलांगों के सहायतार्थ उपकरण वितरण कैम्पों का आयोजन न किए जाने तथा मनरेगा के तहत लगाए गए पौधों की जांच आदि मुद्दों पर सांसद मेनका गांधी सहित समिति के सदस्यों ने कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए मनरेगा अन्तर्गत लगाए गए पौधों की जांच कराने हेतु सड़कों का निर्माण शुरू कराने हेतु पीएमजीएसवाई के अभियन्ता को 15 दिन की मोहलत प्रदान की गई है।
विकास भवन स्थित सभा कक्ष में सांसद मेनका गांधी की अध्यक्षता में जिला स्तरीय सतर्कता एवं निगरानी समिति की आयोजित बैठक में समिति के अन्य सदस्यों के सहयोग से  जनपद में चार एकड़ भूमि पर बड़े जानवरों हेतु चिकित्सालय बनवाने के लिए दो सप्ताह में भूमि का चिन्हाकन कर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए हैं। सांसद ने विकलांगों के हितार्थ नाम मात्र को उपकरण वितरण हेतु कैम्प आयोजित किए जाने पर गहरी नाराजगी जताते हुए जनपद में पीएमजीएसवाई द्वारा अब तक किसी भी सड़क का निर्माण कार्य शुरू न होने पर अधिशासी अभियन्ता को 15 दिन की मोहलत देते हुए कहा है कि यदि इस अवधि में कार्य प्रारम्भ नहीं हुए तो उनके खिलाफ निलंबन हेतु लिख दिया जाएगा।
इन्दिरा आवास निर्माण में दोषियों के खिलाफ मात्र एफआईआर दर्ज कराकर ही कार्रवाही पूर्ण समझ लेने पर सांसद, विधान परिषद सदस्य बनवारी सिंह यादव सहित शहर विधायक आबिद रजा ने इस सम्बन्ध में दोषियों के विरूद्ध कठोर कार्रवाई की मांग की। बैठक में विधान परिषद सदस्य बनवारी सिंह ने सोत नदी के पुल पर गड्ढ़ों तथा टूटी सड़कों की मरम्मत न कराने पर असंतोष व्यक्त करते हुए इस सम्बन्ध में त्वरित कार्रवाई कराने को कहा। शहर विधायक आबिद रजा ने जिला चिकित्सालय के ब्लड बैंक में हुए घपले तथा महिला चिकित्सालय में दलाली बन्द कराने तथा दलालों के विरूद्ध कठोर कार्रवाई कराने की मांग की। शेखूपुर के विधायक आशीष यादव ने म्याऊं, जगत, शेखूपुर आदि स्थानों पर घटिया पाइप लाइन विछाने तथा ओवर हेड टेंक से पानी के टपकने सम्बंधी खराब गुणवत्ता की जांच कराने और दोषियों के विरूद्ध कार्यवाही कराने की मांग की। सहसवान के विधायक ओमकार सिंह ने बाढ़ से सुरक्षा हेतु कराए गए कार्यों की सूची की मांग करते हुए कार्यों की जांच कराने की मांग की तो दूसरी ओर जिला पंचायत अध्यक्ष पूनम यादव ने बाढ़ से सुरक्षा हेतु ठोकरें बनवाने को कहा।
जिलाधिकारी सीपी त्रिपाठी ने सड़कों की सामान्य मरम्मत का कार्य कराने के निर्देश देते हुए इंदिरा आवास निर्माण मामले में पुनः जांच करने हेतु डीआरडीए के पीडी को निर्देश दिए हैं कि वह इस सम्बन्ध में शीघ्र जांच रिपोर्ट उन्हें उपलब्ध कराएं। मुख्य विकास अधिकारी जयन्त कुमार दीक्षित ने गत बैठक में दिए गए आदेशों को पढ़ा और सम्बंधित अधिकारियों द्वारा किए गए अनुपालन के सम्बन्ध में जनप्रतिनिधियों को अवगत कराया गया। इस अवसर पर बदायूं सांसद के प्रतिनिधि अवधेश यादव सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारीगण मौजूद रहे।

Leave a Reply