सचिन के संन्यास को लेकर क्रिकेट का संसार मायूस

सचिन के संन्यास को लेकर क्रिकेट का संसार मायूस
  • दो सौवां टेस्ट मैच खेलने के बाद सचिन गुरूवार से ले लेंगे पूर्णतयः संन्यास
सचिन तेंदुलकर की फाइल फोटो
सचिन तेंदुलकर की फाइल फोटो

क्रिकेट के संसार में भगवान के रूप में अपना स्थान बना चुके सचिन तेंदुलकर गुरुवार को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे। वह अपना अंतिम 200वां टेस्ट मैच वेस्टइंडीज के विरुद्ध खेलेंगे। 24 वर्षों से लगातार देश के लिए खेल रहे सचिन के करोड़ों फैन हैं, जो इस खबर के बाद मायूस हैं।

बेहतरीन क्रिकेटर के साथ आदर्श नागरिक के रूप में पहचान बना चुके सचिन ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के माध्यम से अपने संन्यास की घोषणा की है। 11 वर्ष की आयु से 1989 में कैरियर शुरू करने वाले 40 वर्षीय सचिन ने कहा कि देश का प्रतिनिधित्व करना और पूरी दुनिया में खेलना मेरे लिए एक बड़ा सम्मान था। मुझे घरेलू जमीन पर 200वां टेस्ट खेलने का इंतजार है, जिसके बाद मैं संन्यास ले लूंगा। बीसीसीआई को धन्यवाद देते हुए कहा कि मैं बीसीसीआई को इतने वर्षों में मुझे दिए गए समर्थन के लिए धन्यवाद देता हूं कि उसने मुझे तब संन्यास लेने की अनुमति दी, जब मेरे दिल ने यह फैसला किया। मैं अपने परिवार का, उनके धैर्य और समझ के लिए शुक्रिया अदा करता हूं। मैं अपने प्रशंसकों और शुभचिंतकों का भी शुक्रगुजार हूं, जिन्होंने अपनी प्रार्थनाओं और दुआओं से मुझे मैदान में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की ताकत दी।

सचिन तेंदुलकर की फाइल फोटो
सचिन तेंदुलकर की फाइल फोटो

सचिन तेंदुलकर गत वर्ष दिसंबर में पाकिस्तान के खिलाफ वन-डे सीरीज के लिए भारतीय टीम की घोषणा से पहले वन-डे से संन्यास ले ही चुके हैं, साथ ही अपनी टीम मुंबई इंडियंस को आईपीएल-6 जिताने के बाद आईपीएल को और हाल ही में चैंपियंस लीग जीतने के बाद टी-20 क्रिकेट को अलविदा कह चुके हैं और अब टेस्ट को भी अलविदा कहने जा रहे हैं।

सचिन तेंदुलकर की फाइल फोटो
सचिन तेंदुलकर की फाइल फोटो

सचिन ने 198 टेस्ट मैच खेले हैं, जिनमें 53.86 की औसत से 15,837 रन बनाये हैं, जिसमें 51 शतक और 67 अर्धशतक शामिल हैं, इसी तरह सचिन ने 463 वन-डे मैचों में 44.83 की औसत से 18,426 रन बनाये हैं, जिनमें 49 शतक और 96 अर्धशतक शामिल है। सचिन ने एक टी-20 अंतर्राष्ट्रीय मैच दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दिसंबर 2006 में खेला था, जिसमें उन्होंने 10 रन बनाए थे।

सचिन गेंदबाज भी रहे हैं और 198 टेस्ट मैच की 142 पारी में सचिन ने 3.51 की औसत से 2461 रन देते हुए 45 विकेट लिए है, इसी तरह 463 वन-डे मैचों में 270 पारी में 6850 रन देते हुए 154 विकेट लिए हैं, साथ ही वन-डे मैच में दो बार पांच विकेट भी लिए हैं। एक मात्र टी-20 मैच खेलने वाले सचिन के खाते में 4.80 की औसत से 1 विकेट है।

Leave a Reply