वीडीओ प्रकरण में जाम के बाद आज दर्ज हुई एफआईआर

वीडीओ प्रकरण में जाम के बाद आज दर्ज हुई एफआईआर
आक्रोशित परिजनों व रिश्तेदारों से बात करतीं सीओ दातागंज पूनम सिरोही
आक्रोशित परिजनों व रिश्तेदारों से बात करतीं सीओ दातागंज पूनम सिरोही

अपने वरिष्ठों की अवैध वसूली से तंग आकर जान देने वाले अनुसूचित वर्ग के वीडीओ के प्रकरण में पुलिस ने आज एफआईआर दर्ज कर ली। इससे पहले आक्रोशित परिजनों व रिश्तेदारों ने आज सुबह दातागंज मार्ग जाम कर दिया था। पुलिस क्षेत्राधिकारी पूनम सिरोही के आश्वासन के बावजूद आक्रोशित परिजन मुश्किल से रोड से हटे थे।

उल्लेखनीय है कि जनपद बदायूं में दातागंज कोतवाली क्षेत्र के गाँव पापड़ निवासी समरेर ब्लॉक में तैनात ग्राम पंचायत विकास अधिकारी के पद पर कार्यरत प्रदीप कुमार ने अपने वरिष्ठ अधिकारियों की अवैध वसूली से तंग आकर शुक्रवार की रात में विषाक्त पदार्थ खाकर आत्महत्या कर ली थी, जिसका पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया था, जबकि मृतक सुसाइड नोट छोड़ कर गया था, जिसमें उत्पीड़न की पूरी दास्ताँ विस्तार से बयाँ की गई है। एफआईआर न लिखने के कारण परिजनों ने अन्येष्टि करने से मना कर दिया था, पर पुलिस फिर भी मौन ही रही, तो आज सुबह आक्रोशित परिजनों व रिश्तेदारों ने शव सड़क पर रख जाम लगा दिया, तब पुलिस थोड़ी सक्रीय हुई। मौके पर आई सीओ दातागंज पूनम सिरोही ने मुकदमा दर्ज कराने के लिए आश्वस्त किया, तो जाम खोल दिया गया, इसके बाद मृतक के भाई गौरव की तहरीर के आधार पर धारा 306/504/506 और एससी-एसटी एक्ट के तहत खंड विकास अधिकारी आरपी सिंह व प्रभारी एडीओ (पंचायत) गौस मोहम्मद के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। बता दें कि मृतक ने सांसद धर्मेन्द्र यादव के नाम चार पेज का सुसाइड नोट छोड़ा है, जिसमें उसने आत्महत्या करने के कारणों का सनसनीखेज खुलासा किया है।

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

दुःखद: भ्रष्ट तंत्र से तंग आकर वीडीओ ने की आत्महत्या

Leave a Reply