स्वास्थ्य सेवायें सुदृढ़ करने के लिए कृत संकल्प: अखिलेश

स्वास्थ्य सेवायें सुदृढ़ करने के लिए कृत संकल्प: अखिलेश
  • सांसद डिंपल यादव ने बच्चों के स्वास्थ्य पर बल दिया
सांसद डिंपल यादव के साथ दीप प्रज्ज्वलित करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव
सांसद डिंपल यादव के साथ दीप प्रज्ज्वलित करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि सरकार राज्य में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने और सुदृढ़ करने के लिए कृतसंकल्प है, ताकि प्रदेश के गरीबों, मजलूमों, दबे-कुचले लोगों, महिलाओं और बच्चों को अच्छी एवं प्रभावी स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराई जा सकें। उन्होंने कहा कि बच्चों के स्वास्थ्य पर हमें अपना ध्यान विशेष रूप से केन्द्रित करना पड़ेगा, क्योंकि बच्चे हमारा भविष्य हैं। उन्होंने माँ के स्वास्थ्य पर भी बल दिया।
मुख्यमंत्री ने यह विचार आज इण्डियन एकेडमी आफ पीडियाट्रिक्स यूपी चैप्टर के 34वें वार्षिक सम्मेलन ‘यू0पी0 पेडिकान-2013’ को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि जनसंख्या की दृष्टि से उत्तर प्रदेश देश का सबसे बड़ा राज्य है। इतनी बड़ी जनसंख्या को अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए अनेक प्रयास करने होंगे। उन्होंने कहा कि सत्ता में आने पर प्रदेश सरकार को राज्य की स्वास्थ्य सेवाएं एकदम ध्वस्त मिलीं, जिन्हें अथक प्रयास करके पटरी पर लाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार लोगों को अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए कितनी चिन्तित है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है, कि पूरे प्रदेश में समाजवादी एम्बुलेन्स सेवा-108 लागू की गई है। इस सेवा का लाभ अब पूरे प्रदेश के सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को भी मिल रहा है और मरीज को फौरन इलाज मिल पा रहा है।
श्री यादव ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए हमें अपना ध्यान इन क्षेत्रों पर और अधिक केन्द्रित करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि माँ और बच्चे के स्वास्थ्य के विषय में लोगों को जानकारी देने की आवश्यकता है। रोगों की रोकथाम इत्यादि से सम्बन्धित जानकारी यदि माँ को हो, तो बच्चों को बहुत सारी बीमारियों से बचाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि सरकार राज्य की स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के अपने प्रयास लगातार जारी रखेगी। चिकित्सा सम्बन्धित अवस्थापना सुविधाओं, उपकरणों इत्यादि को उच्चीकृत करके और भी बेहतर बनाया जाएगा, ताकि लोगों को उत्कृष्ट स्वास्थ्य सेवाएँ मिल सकें।
प्रदेश के मेडिकल कालेजों में सीटों की संख्या बढ़ाने की दिशा में किए जा रहे प्रयासों पर बोलते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि एम.सी.आई. द्वारा निर्धारित मानक अत्यन्त जटिल हैं, जिससे सीटों की संख्या बढ़ाने में दिक्कत होती है, फिर भी प्रदेश सरकार के प्रयास से इस वर्ष 500 मेडिकल सीटों की वृद्धि की गई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार यह प्रयास करेगी कि चिकित्सकों को कार्य करने का बेहतर माहौल मिले और वे प्रभावी सेवाएँ दे सकें। उन्होंने कहा कि यदि के.जी.एम.यू. कोई नया कोर्स इत्यादि चलाना चाहेगी, तो राज्य सरकार इसमें पूरा सहयोग करेगी। उन्होंने प्रशिक्षित स्टाफ की आवश्यकता पर भी बल दिया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने इस दिशा में काफी प्रयास किए हैं और आगे भी प्रयास किए जाएंगे। इससे पूर्व कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्यमंत्री ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। कार्यक्रम को कन्नौज की सांसद डिम्पल यादव ने भी सम्बोधित किया। उन्होंने अपने सम्बोधन में बाल स्वास्थ्य पर ध्यान केन्द्रित करने की आवश्यकता पर बल देते हुए कहा कि समाज की प्रगति के लिए स्वस्थ्य एवं सबल बच्चे अत्यन्त महत्वपूर्ण हैं।
कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री अखिलेश यादव तथा सांसद डिम्पल यादव को स्मृति चिन्ह् भी भेंट किए गए। इण्डियन एकेडमी आफ पीडियाट्रिक्स यूपी चैप्टर के पदाधिकारियों ने भी कार्यक्रम को सम्बोधित किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के परामर्शी आमोद कुमार तथा जिलाधिकारी लखनऊ अनुराग यादव सहित कई वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply