राज्यों में लगने वाले करों ने बढ़ाये तेल के दाम

राज्यों में लगने वाले करों ने बढ़ाये तेल के दाम

 

 

दो दिन पहले जब पेट्रोल के दाम बढ़े तब ही से डीजल की कीमत बढ़ने के कयास लगाए जा रहे थे। पैट्रोल का खुदरा मूल्य 70 पैसे प्रति लीटर बढ़ाने के बाद आखिर सरकारी तेल कंपनियों ने कल रात सात राज्यों में डीजल की कीमत भी बढ़ा दी। इसके साथ ही रसोई गैस और केरोसिन के दाम भी बढ़ाये गए हैं। तेल कंपनियों का कहना है कि राज्यों में लगने वाले विभिन्न टैक्स ही इस मूल्य वृद्धि का कारण हैं। टैक्स नीति के कारण गुजरात, तमिलनाडु, गोवा, झारखंड जैसे कुछ राज्यों में कीमत में कटौती भी हुई है। इसी प्रकार 12 राज्यों में रसोई गैस की कीमत घटी है।

बिहार में पेट्रोल 80 पैसे प्रति लीटर और डीजल 1.45 रुपये प्रति लीटर की वृद्धि हुई है। उत्तर प्रदेश में पेट्रोल और डीजल क्रमश: 56 और 55 पैसे प्रति लीटर महंगे हुए हैं। बिहार में रसोई गैस सिलेंडर के दाम 9.16 रुपये और उत्तर प्रदेश में 6.01 रुपये बढ़ गए हैं। असम में पेट्रोल 2.13 रुपये प्रति लीटर और डीजल 1.95 रुपये प्रति लीटर महंगा हो चुका है। रसोई गैस भी 19.43 रुपये प्रति सिलेंडर और केरोसिन 80 पैसे प्रति लीटर महंगा हुआ है। तेल सबसे अधिक महंगा असम में ही है। महंगाई की इस मार का दूसरा बड़ा शिकार पश्चिम बंगाल बना है। कर्नाटक के लोग पैट्रोल और डीजल की सबसे कम कीमत चुकाएंगे। तेल कंपनियों ने कहा कि, राज्यों द्वारा लगाए जाने वाले विभिन्न कर जैसे, बिक्री कर, एंट्री शुल्क, खरीद कर आदि को बिक्री मूल्य में कई वर्षों से नहीं जोड़ा जा रहा था जिससे बड़ा घाटा हो रहा था। ज्ञात हो कि, 2002 से सरकार ने पेट्रोलियम उत्पादों की कीमत तय करने का निर्णय तेल कंपनियों पर छोड़ दिया था। 2002 के बाद से तेल कंपनियाँ आयात मूल्य के आधार पर कीमत का निर्धारण कर रही हैं। मूल्य निर्धारण में सरकार की भूमिका खत्म होते ही राज्यों ने भी तेल कंपनियों पर कई तरह के कर लगाना शुरू कर दिया। अब वही कर तेल की कीमतों मे जोड़े जा रहे हैं जिससे तेल महंगा हो रहा है। अलग-अलग राज्यों में इसकी कीमत भी अलग-अलग है। इसका कारण यह है कि, हर राज्य की कर नीति अलग है और उसका सीधा असर तेल की कीमतों पर पड़ रहा है।

 

3 Responses to "राज्यों में लगने वाले करों ने बढ़ाये तेल के दाम"

  1. Vanessa   October 26, 2012 at 1:04 AM

    How would you like the money? viagra cialis levitra online pharmacy Sift flour and salt into a bowl. Add enough water to make a fairly stiff dough. Knead well.

    Reply
  2. Diva   October 26, 2012 at 11:58 AM

    Could you tell me the number for ? http://stasisfield.com canadian pharmacy viagra no prescription manner leading to entry into the advanced pharmacy practice experiences. The didactic course

    Reply
  3. Ryan   November 18, 2012 at 2:37 PM

    I’ll call back later amitriptyline price People react in a number of different ways to this reentry period. Some slide right back

    Reply

Leave a Reply