राजनाथ के सक्रिय होने से मोदी विरोधी भी हुये सक्रिय

राजनाथ के सक्रिय होने से मोदी विरोधी भी हुये सक्रिय

– नरेंद्र मोदी को वीजा न देने को लेकर पुनः भेजा पत्र

नरेंद्र मोदी
नरेंद्र मोदी

नरेंद्र मोदी को लेकर कोई न कोई विवाद छाया ही रहता है, अब 65 सांसदों ने अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा को पुनः पत्र भेज कर नरेंद्र मोदी को वीजा न देने की अपील की है, लेकिन दो सांसद मुकर गये हैं।

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा को 26 नवंबर 2012 को राज्य सभा के 25 सदस्यों और 5 दिसंबर 2012 को लोकसभा के 40 सांसदों ने पत्र भेज कर नरेंद्र मोदी को वीजा न देने की अपनी नीति पर अडिग रहने की मांग की थी, इन्हीं पत्रों को सांसदों ने पुनः बराक ओबामा के लिए फैक्स किया है। पत्र पर मोहम्मद अदीब, साबिर अली, अली अनवर अंसारी, रशीद मसूद, एसएस रस्मासुब्बु, एस अहमद, असाउद्दीन ओवैसी, थिरुमावालावन, केपी रामालिंगम, सीताराम येचुरी, और एमपी अच्युतन के हस्ताक्षर प्रमुख रूप से हैं। उल्लेखनीय है कि राजनाथ सिंह अमेरिका प्रवास के दौरान नरेंद्र मोदी को वीजा दिलाने के लिए प्रयासरत हैं, साथ ही उन्होंने ओबामा प्रशासन से नरेंद्र मोदी को वीजा देने का आग्रह भी किया है, इसीलिए यह सांसद पुनः सक्रिय हो गये हैं। उधर माकपा नेता और राज्य सभा सदस्य सीताराम येचुरी ने पत्र पर हस्ताक्षर करने से मना किया है, उनका कहना है कि उनके हस्ताक्षर किसी दस्तावेज़ से काट कर चिपकाये गये हैं, इसी तरह अच्युतन ने भी अपने हस्ताक्षर न करने की बात कही है, लेकिन इस मुहिम की अगुवाई करने वाले निर्दलीय राज्य सभा सदस्य मोहम्मद अदीब का कहना है कि येचुरी और अच्युतन ने हस्ताक्षर किए थे, पर अब पता नहीं कि वह क्यों मना कर रहे हैं, ऐसे में सवाल यह उठता है कि इस स्तर पर भी हस्ताक्षरों का दुरुपयोग हो रहा है, तो जांच क्यूँ नहीं होना चाहिए?

Leave a Reply