यूपी सरकार की लापरवाही से हुए मुजफ्फरनगर दंगे: कोर्ट

यूपी सरकार की लापरवाही से हुए मुजफ्फरनगर दंगे: कोर्ट
  • शिक्षकों के प्रकरण में भी कोर्ट ने सरकार को झटका दिया
  • भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने त्याग पत्र देने की मांग की
यूपी सरकार की लापरवाही से हुए मुजफ्फरनगर दंगे: कोर्ट
यूपी सरकार की लापरवाही से हुए मुजफ्फरनगर दंगे: कोर्ट

उत्तर प्रदेश की सपा सरकार पर अदालत का दोहरा हथौड़ा पड़ा है। सुप्रीम कोर्ट ने मुजफ्फरनगर के दंगों और परिषदीय प्राथमिक शिक्षकों के मामले में सरकार को बड़ा झटका दिया है।

मुजफ्फरनगर दंगों पर सुप्रीम कोर्ट ने आज उत्तर प्रदेश सरकार को कठघरे में खड़ा करते हुए कहा कि सरकार दंगों को रोकने में नाकाम रही और सरकार की लापरवाही से ही दंगे हुए, साथ ही कोर्ट ने सीबीआई और एसआईटी जांच कराने से मना कर दिया।

उधर परिषदीय प्राथमिक स्कूलों में 72825 रिक्त पदों को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने करारा झटका दिया है। हाई कोर्ट ने शिक्षकों की भर्ती शिक्षक पात्रता परीक्षा की मेरिट के आधार पर करने के मायावती सरकार को सही ठहराया था, इसी आदेश को सुप्रीम कोर्ट ने सही माना है।

उधर मुजफ्फरनगर दंगों पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी आते ही लखनऊ में पत्रकारों से बात करते भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से त्याग पत्र देने की मांग की है। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी को हर तरह की जांच में क्लीन चिट मिल चुकी है, इसके बावजूद उन पर आरोप लगते हैं, इसलिए सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी के बाद अब सपा को सरकार में नहीं रहना चाहिए और मुख्यमंत्री को राज्यपाल के समक्ष त्याग पत्र दे देना चाहिए।

Leave a Reply