यूएनओ में हिन्दी में भाषण देने वाले सांसद धर्मेन्द्र का भव्य स्वागत

यूएनओ में हिन्दी में भाषण देने वाले सांसद धर्मेन्द्र का भव्य स्वागत

यूएनओ से हिन्दी में भाषण देकर लौटे लोकप्रिय युवा सांसद धर्मेंद्र यादव का आज ऐतिहासिक स्वागत किया गया। स्वागत से अभिभूत सांसद धर्मेंद्र ने कहा कि उन्हें हिन्दी में भाषण देने का अवसर बदायूं की जनता के कारण मिला है, इसलिए वह बदायूँ की जनता को धन्यवाद देते हैं एवं समस्त शुभकामनायें भी जनता को ही समर्पित करते हैं। सांसद ने यह भी कहा कि भव्य स्वागत से उनकी ज़िम्मेदारी और बढ़ गई है। वह बदायूँ में चहुंमुखी विकास कराएंगे।

सांसद धर्मेंद्र यादव का स्वागत करते विधायक, नेता और पार्टी पदाधिकारी।

बदायूँ के मिशन कंपाउंड में आयोजित भव्य स्वागत समारोह में युवा सांसद ने कहा कि यूएनओ में अँग्रेजी के अलावा मात्र पाँच भाषाएँ ही अधिकृत हैं, इसलिए उन्होंने हिन्दी में भाषण देने का संकल्प पहले ही ले लिया था। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता बातें बड़ी-बड़ी करते हैं, पर कांग्रेस की गलत नीतियों के कारण ही विदेश में हिन्दी को सम्मान नहीं मिल पाया है, साथ ही उन्होंने आतंकवाद के लिए अमेरिका को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि आतंकवाद रोकने की दिशा में अमेरिका से अपेक्षित प्रयास करने की बात गंभीरता से रखी गई है। इससे पहले उन्होंने कहा कि बदायूँ की जनता ने उन्हें सांसद चुना है, तभी उन्हें संसद या अमेरिका में बोलने का अवसर मिलता है, इसलिए वह बदायूँ की जनता के आभारी हैं। उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज स्वीकृत हो गया है, साथ ही लोक निर्माण विभाग से उत्तर प्रदेश में सब से अधिक सड़कें बदायूँ को ही स्वीकृत हुई हैं, इसके अलावा जो बदायूँ के विकास के लिए आवश्यक है, वह सब कराने को तत्पर हैं एवं जनता की जरूरतों के अनुसार लगातार विकास कराते रहेंगे। सांसद ने जानकारी दी कि जनपद के प्रत्येक विकास खंड को एक-एक एंबुलेंस मिल गई है और शीघ्र ही एक-एक और दिला देंगे। चार मुख्यालय के लिए भी दिलाएँगे। इससे पहले जनपद के विधायकों, पार्टी पदाकारियों, कार्यकर्ताओं, समाजसेवियों, वरिष्ठ नागरिकों और कार्यकर्ताओं ने शॉल उड़ा कर व फूल मालाओं से लाद कर जोरदार स्वागत किया। सांसद को कार्यकर्ताओं ने चांदी का मुकुट भी पहनाया। इस अवसर पर वरिष्ठ नेता मो॰ यासीन उस्मानी, आजमगढ़ के विधायक संग्राम सिंह, सपा जिलाध्यक्ष बनवारी सिंह यादव, विधायक आबिद रज़ा, विधायक आशीष यादव, विधायक ओमकार सिंह यादव, हरप्रसाद सिंह पटेल, बृजेश यादव, बलबीर सिंह यादव, मधु सक्सेना सहित तमाम नेता मौजूद रहे। संचालन गुलफाम सिंह यादव ने किया।

 

वरिष्ठ सपा नेता ने मंच से ही रोया दुखड़ा, चेतावनी भी दी

मंच से जिलाध्यक्ष, एमएलसी व पूर्व राज्यमंत्री बनवारी सिंह यादव ने अपनी ही सरकार के अधिकारियों की जमकर फजीहत की। सांसद से खुलेआम शिकायत करते हुये उन्होंने कहा कि शहर में दोपहिया वाहनों का निरीक्षण नहीं रोका जा रहा है। निरीक्षण के दौरान उनके लोगों को परेशान किया जाता है, साथ ही एसपी, एएसपी और सीओ पर आरोप लगाया कि यह अधिकारी उनका फोन नहीं उठाते और एसपी भाजपा नेताओं के कहने पर उनके लोगों पर डकैती और बलात्कार का मुकदमा दर्ज करा देती है। राशन वितरण प्रणाली और इंदिरा आवास आवंटन में धांधली हो रही है। उन्होंने मंच से ही चेतावनी देने के लहजे में कहा कि अगर अधिकारी शीघ्र सही नहीं किए, तो वह विपक्ष की तरह सड़क पर उतार आएंगे और फिर उन्हें कोई सँभाल नहीं पायेगा। खैर, बनवारी सिंह यादव के बाद बोलने आए सांसद ने शालीनता से उनकी बात का जवाब देते हुये सब ठीक करने का आश्वासन दे दिया, लेकिन सच्चाई कुछ और ही है। असलियत में जनपद के समस्त अधिकारी एवं जनता सीधे सांसद के संपर्क में रहती है, जिससे स्थानीय नेताओं की दलाली की दुकानें बंद हैं। थानाध्यक्षों, उपजिलाधिकारियों, तहसीलदारों, कोटेदारों, प्रधानों आदि से महीनादारी नहीं ले पा रहे हैं, जिससे झल्लाये हुये नज़र आ रहे हैं। ऐसे में सांसद अधिकारियों को बदलवा भी दें, तो अगले अधिकारी भी दुकान नहीं चलने देंगे, इसलिए सांसद धर्मेन्द्र यादव को स्थानीय नेताओं को मनमानी करने की छूट देनी होगी, वरना स्थानीय नेताओं की शिकायत अंत तक समाप्त नहीं होने वाली। यही बात समारोह में आए अधिकांश बुद्धिजीवी कह रहे थे।

One Response to "यूएनओ में हिन्दी में भाषण देने वाले सांसद धर्मेन्द्र का भव्य स्वागत"

  1. Rajkamal   October 21, 2012 at 7:02 PM

    bahut badiya gautam ji…..

    Reply

Leave a Reply