मुजफ्फरनगर की घटना के बाद प्रदेश में हाई अलर्ट

मुजफ्फरनगर की घटना के बाद प्रदेश में हाई अलर्ट
  • मुजफ्फरनगर में हुई हिंसक घटना को अत्यन्त दुःखद एवं दुर्भाग्यपूर्ण: मुख्यमंत्री
  • घटना में मृत पत्रकार के परिजनों को 10 लाख रु0 तथा अन्य मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रु0 की आर्थिक सहायता
  • गम्भीर रूप से घायलों को 50-50 हजार रु0 एवं सामान्य रूप से घायलों को 20-20 हजार रु0 की आर्थिक सहायता दिए जाने की घोषणा
  • आई0जी0 कानून व्यवस्था एवं आई0जी0 मेरठ जोन को मुजफ्फरनगर में कैम्प करने के निर्देश, घटना की गम्भीरता को देखते हुए पूरे प्रदेश में हाई अलर्ट
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मुजफ्फरनगर में आज हुई हिंसक घटना को अत्यन्त दुःखद एवं दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए घटना में मरने वालों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है तथा उनके इलाज हेतु बेहतर प्रबन्ध किए जाने के निर्देश दिए हैं।

श्री यादव ने कहा है कि हर हाल में साम्प्रदायिक सद्भाव एवं सौहार्द बनाए रखा जाए तथा शान्ति व्यवस्था को प्रभावित करने वाले असामाजिक तत्वों को चिन्हित कर उनके विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जाए। उन्होंने कहा कि इस घटना के जिम्मेदार व दोषी किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा।
मुख्यमंत्री ने मुजफ्फरनगर में अब तक मरे सभी मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपए तथा गम्भीर रूप से घायलों को 50-50 हजार रुपए एवं सामान्य रूप से घायलों को 20-20 हजार रुपए की आर्थिक सहायता दिए जाने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने इस घटना में मृतक पत्रकार राजेश वर्मा के परिजनों को उक्त सहायता के अलावा पांच लाख रुपए की अतिरिक्त सहायता अर्थात् कुल 15 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की।
इस घटना की गम्भीरता को देखते हुए गृह विभाग द्वारा पूरे प्रदेश में हाई अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा 28 कंपनी अतिरिक्त पुलिस बल प्रदेश के विभिन्न स्थानों पर तैनात करने के भी निर्देश दिए गए हैं।
उल्लेखनीय है कि मुजफ्फरनगर में आज की घटना में पत्रकार सहित कुल 6 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है तथा 34 व्यक्ति घायल हुए हैं। जिला प्रशासन द्वारा एहतियातन 3 थाना क्षेत्रों-सिविल लाइन्स, कोतवाली तथा नई मण्डी में कफ्र्यू लगाया गया है। राज्य स्तर से 5 कंपनी पी0ए0सी0 एवं 5 कंपनी रैपिड एक्शन फोर्स अतिरिक्त भेजा गया है। आई0जी कानून व्यवस्था एवं आई0जी0 मेरठ जोन को स्थिति सामान्य होने तक मुजफ्फरनगर में कैम्प करने के निर्देश दिए गए हैं।

Leave a Reply