मुख्यमंत्री ने हज यात्रियों का पहला जत्था रवाना किया

मुख्यमंत्री ने हज यात्रियों का पहला जत्था रवाना किया
  • धर्म, जाति एवं क्षेत्र का भेदभाव समाप्त होने पर ही देश एवं प्रदेश की तरक्की होगी: मुख्यमंत्री 
  • कुछ पार्टियां उत्तर प्रदेश को समृद्धि के रास्ते पर जाते हुए नहीं देखना चाहतीं
हज यात्रियों को रवाना करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव व वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री आजम खां
हज यात्रियों को रवाना करने से पूर्व संबोधित करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि धर्म, जाति एवं क्षेत्र का भेदभाव समाप्त होने पर ही देश एवं प्रदेश की तरक्की होगी। उन्होंने हज यात्रियों से समाज में मानवता, शांति, भाईचारा कायम रखने की दुआ करने की अपील की। उन्होंने कहा कि कुछ पार्टियां एवं लोग प्रदेश को समृद्धि के रास्ते पर जाते हुए नहीं देखना चाहते, इसलिए यहां का माहौल खराब करने का प्रयास कर रहे हैं।
मुख्यमंत्री आज यहां मौलाना अली मियां मेमोरियल हज हाउस में हज यात्रियों का पहला जत्था रवाना करने के अवसर पर अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने हज यात्रियों के लिए की गई व्यवस्था की तारीफ करते हुए कहा कि इससे पहले हज यात्रियों के लिए कभी ऐसी व्यवस्था नहीं की गई। इस मौके पर मीडिया के प्रश्नों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि मुजफ्फरनगर में शान्ति बहाली के लिए हर सम्भव प्रयास किए जा रहे हैं। कुछ अधिकारियों को हटाकर उनकी जगह नए अधिकारियों को तैनात किया गया है।
श्री यादव ने कहा कि राज्य सरकार मुजफ्फरनगर में शान्ति-व्यवस्था स्थापित करने तथा अभी तक हुए नुकसान को आगे न बढ़ने देने के लिए काम कर रही है। भाईचारा बिगाड़ने वाले दंगाईयों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही का आश्वासन देते हुए उन्होंने कहा कि कुछ पार्टियां एवं लोग राज्य सरकार के खिलाफ माहौल बनाने की साजिश कर रही हैं, लेकिन ऐसे तत्वों को सफल नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि मुजफ्फरनगर एवं इसके आसपास के जनपदों में पर्याप्त पुलिस बल के अलावा केन्द्रीय बल भी तैनात किए गए हैं। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने हज यात्रियों की बस को हरी झण्डी दिखाकर एयरपोर्ट के लिए रवाना किया।
कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए नगर विकास, अल्पसंख्यक कल्याण एवं हज मंत्री मोहम्मद आजम खां ने कहा कि कुछ लोग सरकार एवं संविधान से अपने आपको ऊपर समझते हैं और ऐसे लोग समाज में वर्षों से कायम भाईचारा एवं सौहार्दपूर्ण वातावरण को समाप्त कर अपना हित साधने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि गाजियाबाद में हज हाउस के निर्माण कार्य को शीघ्र पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है, ताकि अगली बार वहां से भी हज यात्री रवाना हो सकें। इस अवसर पर मौलाना सैय्यद मोहम्मद राबे हसनी नदवी ने भी हज यात्रियों को सम्बोधित किया। कार्यक्रम में कारागार मंत्री राजेन्द्र चौधरी, सचिव अल्पसंख्यक कल्याण देवेश चतुर्वेदी एवं अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply