मुख्यमंत्री गौ सेवा आयोग के प्रतिनिधि मंडल से मिले

मुख्यमंत्री गौ सेवा आयोग के प्रतिनिधि मंडल से मिले
मुजफ्फरनगर-शामली से आये गौ सेवा आयोग के प्रतिनिधिमण्डल के साथ मुख्यमंत्री अखिलेश यादव
मुजफ्फरनगर-शामली से आये गौ सेवा आयोग के प्रतिनिधिमण्डल के साथ मुख्यमंत्री अखिलेश यादव
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि जनपद मुजफ्फरनगर एवं इसके आसपास हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना से प्रभावित लोगों को राहत पहुंचाने के लिए राज्य सरकार द्वारा गम्भीरता से कार्य किया गया है। उन्होंने कहा कि राहत शिविरों में ठण्ड से बचाव के लिए हर संभव कदम उठाने के निर्देश दिए गए हैं। राज्य सरकार की कोशिश है कि राहत शिविरों में रुके बचे हुए लोग शीघ्र अपने निवास स्थान लौटें।
मुख्यमंत्री आज लखनऊ में अपने सरकारी आवास 5, कालिदास मार्ग पर मुजफ्फरनगर-शामली से गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष मुकेश चौधरी के नेतृत्व में आए प्रतिनिधिमण्डल से वार्ता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि साम्प्रदायिक हिंसा से प्रभावित लोगों को आर्थिक मदद उपलब्ध कराने के साथ-साथ मृतक लोगों के आश्रितों को नौकरी तथा घायलों को पेंशन आदि की सुविधाएं उपलब्ध कराई गईं हैं और राहत शिविरों के माध्यम से लोगों के ठहरने, चिकित्सा, खाद्य सामग्री एवं दैनिक उपयोग की जरूरी समस्त सुविधाएं प्रदान की गईं। उन्होंने कहा कि राहत शिविरों में व्यवस्था सम्बन्धी कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए।
प्रतिनिधिमण्डल ने राहत शिविरों के अतिरिक्त जनपद मुजफ्फरनगर व शामली की अन्य स्थानीय समस्याओं से भी मुख्यमंत्री को अवगत कराया। प्रतिनिधिमण्डल ने मुख्यमंत्री से जनपद मुजफ्फरनगर से शामली तक जाने वाली सड़क की प्राथमिकता के स्तर पर मरम्मत कराने, चरथावल कस्बे में विद्युत आपूर्ति में सुधार कराने तथा शाहपुर व बगरा ब्लाक को डार्क जोन से हटाकर नए कनेक्शन उपलब्ध कराए जाने की मांग की। इस पर मुख्यमंत्री ने कार्रवाई किए जाने का आश्वासन दिया।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री से उ0प्र0 गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष मुकेश चौधरी की प्रदेश में बायोगैस प्लाण्ट लगाए जाने सम्बन्धी प्रस्तावों पर भी चर्चा हुई। मुख्यमंत्री ने कहा कि इन प्लाण्टों के लग जाने से प्रदेश में विद्युत उपलब्धता बढ़ेगी। प्रतिनिधिमण्डल में मेराजुद्दीन, अब्दुल्ला राणा, कारी गफ्फार, नौशाद अली, अयूब जंग आदि शामिल थे।

Leave a Reply