भविष्य में परिवहन सेवा में काफी सुधार दिखार्इ देगा : अखिलेश

भविष्य में परिवहन सेवा में काफी सुधार दिखार्इ देगा : अखिलेश
  • राज्य सरकार जनता को अच्छी बस सेवा उपलब्ध कराने के लिए प्रयास कर रही है : मुख्यमंत्री
 
 
  • मुख्यमंत्री ने किया रेडियो टैक्सी एवं ऑन लाइन व्यावसायिक वाहन कर भुगतान प्रणाली का शुभारम्भ 
 रेडियो टैक्सी एवं ऑन लाइन व्यावसायिक वाहन कर भुगतान प्रणाली के अवसर पर हुए समारोह में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव व अन्य वरिष्ठ मंत्रीगण
रेडियो टैक्सी एवं ऑन लाइन व्यावसायिक वाहन कर भुगतान प्रणाली के अवसर पर हुए समारोह में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव व अन्य वरिष्ठ मंत्रीगण
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि राज्य सरकार जनता को अच्छी बस सेवा उपलब्ध कराने के लिए प्रयास कर रही है। उन्होंने वित्तीय संसाधनों की कमी को देखते हुए अधिकारियों को ऐसी योजनाएं बनाने के निर्देश दिए हैं, जिससे निजी निवेशक सार्वजनिक-निजी-सहभागिता (पी.पी.पी.) के आधार पर बस अडडों सहित अन्य संसाधनों में निवेश के लिए प्रोत्साहित हो सकें। परिवहन विभाग द्वारा नागरिक आधारित सेवाओं में आधुनिक तकनीक के प्रयोग की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि आगे आने वाले समय में परिवहन सेवा में काफी सुधार दिखार्इ देगा।
मुख्यमंत्री आज लखनऊ में अपने सरकारी आवास पर रेडियो टैक्सी एवं ऑन लाइन व्यावसायिक वाहन कर भुगतान प्रणाली का शुभारम्भ करने के बाद अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने कहा कि रेडियो टैक्सी योजना से लोगों को आपात परिसिथतियों में एक भरोसेमंद तथा स्थापित प्रणाली के तहत टैक्सी की सुविधा मिल सकेगी। इससे लोगों के समक्ष आने वाली तमाम समस्याओं का समाधान होगा। इसी प्रकार व्यावसायिक वाहनों के आनलाइन कर जमा करने की सुविधा से लोगों को परिवहन कार्यालयों का चक्कर लगाने से निजात मिलेगी और वाहन स्वामी अपनी सुविधा से घर बैठे कर का भुगतान कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि मुख्य सचिव राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप सरकारी सेवाओं की आरामदायक एवं बाधारहित उपलब्धता के लिए लगातार समीक्षा कर विभिन्न विभागों में आधुनिक तकनीक के प्रयोग का प्रयास कर रहे हैं। इससे जनता को सुविधा मिलेगी।
श्री यादव ने कहा कि गरीब आदमी के लिए राज्य परिवहन निगम द्वारा संचालित बसें ही एक मात्र सार्वजनिक साधन है। इसलिए राज्य सरकार बसों एवं बस अडडों को बेहतर बनाने का प्रयास कर रही है। इसके लिए पी.पी.पी. आधार पर बस अडडों में निवेश के लिए प्रयास भी किया गया, परन्तु इस दिशा में अभी तक कतिपय कारणों से सफलता नहीं मिल पार्इ है। इसलिए अधिकारियों को पी.पी.पी. आधार पर निवेश की ऐसी योजना तैयार करने के लिए कहा गया है, जिससे निजी निवेशक प्रोत्साहित हों।
मीडिया द्वारा पूछे गए प्रश्नों के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य कर्मचारियों की हड़ताल समाप्त कराने के लिए अधिकारी वार्ता कर रहे हैं। उन्होंने राज्य सरकार की कुछ परियोजनाओं में पी.पी.पी. आधार पर निवेशक न मिलने की वजह का जिक्र करते हुए कहा कि देश की खराब आर्थिक सिथति के कारण जिस पैमाने पर निवेश मिलना चाहिए, उतना नहीं मिल पा रहा है। निजी चीनी मिलों को चालू कराने के सम्बन्ध में पूछे गए प्रश्न का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि प्रयास किया जा रहा है कि चीनी मिलें भी चलें और किसानों को भी लाभ मिले। जनपद उन्नाव के डोंडिया खेड़ा में खुदार्इ की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि वहां केन्द्र सरकार के पुरातत्व विभाग द्वारा खुदार्इ की जा रही थी, जिसमें राज्य सरकार का कोर्इ रोल नहीं था। उन्होंने कहा कि आगे इस सम्बन्ध में नियमानुसार आवश्यक कार्रवार्इ की जाएगी। उन्होंने राज्य सरकार की नि:शुल्क लैपटाप वितरण योजना का उल्लेख करते हुए कहा कि लैपटाप पढ़ार्इ के लिए आवश्यक है। इसीलिए मजबूर होकर उत्तर प्रदेश सरकार की नकल करते हुए कर्इ अन्य राज्य सरकारें लैपटाप वितरण के लिए अपनी जनता से वायदा कर रही हैं। इस अवसर पर परिवहन विभाग की विभिन्न योजनाओं की विस्तृत जानकारी देते हुए परिवहन मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव ने कहा कि विभाग की पहली प्राथमिकता जनता को अधिक से अधिक सुविधा उपलब्ध कराने की है। उन्होंने कहा कि आज संचालित योजनाओं से लोगों को राहत मिलेगी। कार्यक्रम को राज्य मंत्री परिवहन मान पाल सिंह वर्मा एवं महबूब अली ने भी सम्बोधित किया। इस मौके पर मुख्य सचिव जावेद उस्मानी ने कहा कि परिवहन विभाग जनता से सीधे जुड़ा विभाग है। सरकार विभाग के माध्यम से जनता को भरासेमंद परिवहन सुविधा उपलब्ध कराने के लिए काम कर रही है। विभाग द्वारा पहले ही स्मार्ट कार्ड पर ड्राइविंग लाइसेंस जारी करने की व्यवस्था संचालित की जा रही है। उन्होंने कहा कि ऑन लाइन व्यावसायिक वाहन कर भुगतान प्रणाली के माध्यम से प्रदेश के लगभग 7.25 लाख पंजीकृत व्यावसायिक वाहनों के स्वामियों को लाभ होगा। प्रमुख सचिव परिवहन बी.एस. भुल्लर ने बताया कि आज से लखनऊ नगर में रेडियो टैक्सी योजना लागू हो जाएगी। इसके बाद इसे प्रदेश के अन्य बड़े नगरों में लागू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ऑन लाइन कर भुगतान प्रणाली आज से लखनऊ एवं गाजियबाद में काम करना शुरु कर देगी। इस वर्ष के अंत तक प्रदेश के शेष जनपदों में योजना प्रभावी हो जाएगी। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के समक्ष परिवहन विभाग की आज से लागू ऑन लाइन व्यावसायिक वाहन कर भुगतान प्रणाली को संचालित करने के लिए स्टेट बैंक आफ इणिडया के जनरल मैनेजर दुखबंद रथ तथा प्रमुख सचिव परिवहन बी.एस. भुल्लर ने एम.ओ.यू. पर हस्ताक्षर किया।
कार्यक्रम में प्रदेश मंत्रिमण्डल के सदस्य आनन्द सिंह, ओमप्रकाश सिंह, अंबिका चौधरी, रामगोविन्द चौधरी, राजा महेन्द्र अरिदमन सिंह, अवधेश प्रसाद, राजेन्द्र चौधरी, योगेश प्रताप सिंह तथा अभिषेक मिश्र सहित कर्इ जनप्रतिनिधि तथा प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री राकेश गर्ग, परिवहन आयुक्त रजनीश गुप्त, उ0प्र0 राज्य सड़क परिवहन निगम के प्रबन्ध निदेशक मुकेश कुमार मेश्राम सहित अन्य अधिकारी उपसिथत थे।

Leave a Reply