प्रत्याशियों का भाग्य स्ट्रांग रूम में लॉक, बेचैनी बरकरार

प्रत्याशियों का भाग्य स्ट्रांग रूम में लॉक, बेचैनी बरकरार
  • स्ट्रांग रूम सील, सीसीटीवी कैमरों से होगी रखवाली
स्ट्रांग रूम के गेट पर लगा सील बंद ताला
स्ट्रांग रूम के गेट पर लगा सील बंद ताला

बदायूं में विधान सभा वार सभी ईवीएम को सामान्य प्रेक्षक आनन्दराव विष्णू पाटील समस्त एआरओ व प्रत्याशियों के अभिकर्ताओं की मौजूदगी में स्थानीय मण्डी समिति स्थित स्ट्रांग रूम में रख दिया गया है और रूम को सील कर दिया गया है।
मतदान प्रक्रिया सम्पन्न होने के कुछ ही देर बाद पोलिंग पार्टियां आना शुरू हो गई थीं और ईवीएम जमा कराने का कार्य पूरी रात जारी रहा। प्रातः छह बजे के आसपास 23 बदायूं लोकसभा क्षेत्र के सामान्य प्रेक्षक, डीएम, एसएसपी एवं प्रत्याशियों के अभिकर्ताओं सहित अन्य अधिकारी एवं सभी विधान सभा क्षेत्रों के एआरओ की मौजूदगी में विधान सभा वार ईवीएम रखवा कर स्ट्रांग रूम को डबल लॉक सिस्टम से बन्द करा कर सील करने के बाद चाबी कोषागार के डबल लॉक में जमा कर दी गई है।

भाजपा प्रत्याशी वागीश पाठक
भाजपा प्रत्याशी वागीश पाठक

सुरक्षा व्यवस्था की दृष्टि से सीसीटीवी कैमरों के अलावा अर्द्ध सैनिक बल लगाया गया है। ईवीएम को विधान सभा वार अलग-अलग स्ट्रांग रूम में ईवीएम को पालिथिन से ढक दिया गया है, जिससे पानी आदि के कारण किसी प्रकार का नुकसान न होने पाए और ईवीएम सुरक्षित रहें। चुनाव अभिकर्ताओं द्वारा स्ट्रांग रूम को देखने अथवा निगरानी करने हेतु भी व्यवस्था की गई है। कोई भी चुनाव अभिकर्ता रिटर्निंग आफीसर/जिला निर्वाचन अधिकारी से लिखित अनुमति प्राप्त करके स्ट्रांग रूम परिसर के बाहर से देख सकता है और लगातार निगरानी भी कर सकता है।    

         

सपा प्रत्याशी धर्मेन्द्र यादव
सपा प्रत्याशी धर्मेन्द्र यादव

   
उधर ईवीएम में भाग्य बंद होने के बाद जिले भर में समर्थक अपने-अपने प्रत्याशी की जीत के दावे करते नज़र आ रहे हैं। सपा प्रत्याशी धर्मेन्द्र यादव और भाजपा प्रत्याशी वागीश पाठक की जीत को लेकर सट्टा भी खूब लग रहा है, जिससे लाखों लोगों को 16 मई का बेसब्री से इंतजार है कि किस के सिर जीत का सेहरा बंधेगा।

Leave a Reply