पहाड़ों पर आग लगने से हजारों लोगों के जीवन पर संकट

पहाड़ों पर आग लगने से हजारों लोगों के जीवन पर संकट

आग से धधकते उत्तराखंड के पहाड़
आग से धधकते उत्तराखंड के पहाड़

            किरन कांत

दुनिया भर में मशहूर उत्तराखंड की रमणीक वादियों को न जाने किस की नज़र लग गई है। पिछले वर्ष हुई त्रासदी से उत्तराखंड अभी तक उबर नहीं पाया है और इस वर्ष पहाड़ों पर आग लगने से हालात और भी बदतर हो चले हैं। आग से निपटने के संसाधन उत्तराखंड सरकार के पास नहीं हैं और न ही उत्तराखंड सरकार की इस आपदा से निजात पाने की सोच नज़र आ रही है। आम आदमी की तरह ही सरकार भी बारिश का ही इंतजार कर रही है, ऐसे में आम लोग केंद्र सरकार की ओर निहार रहे हैं, पर सभी चार सांसद देने वाले उत्तराखंड की ओर केंद्र सरकार का भी ध्यान नहीं है।

पहाड़ों पर आग धधकने से आम लोग तो परेशान हैं ही, इस बार सैलानी भी परेशान हैं, साथ ही सब से अधिक बुरा हाल जंगल में रहने वाले बेजुबान जानवरों का है। जानवर आग की चपेट में आकर लगातार मर रहे हैं और जो बचे हैं, उनका हाल बड़े हुए तापमान ने खराब कर रखा है, जिससे इधर-उधर भाग कर किसी तरह खुद को बचा रहे हैं। आग की चपेट में कई गाँव भी आ गये हैं, जिससे लोगों के जीवन पर संकट मढ़राने लगा है।

आग लगने के कारण उत्तराखंड की राजधानी देहरादून का तापमान 41 डिग्री के पार पहुँच चुका है। पंत नगर का तापमान 40 डिग्री, हरिद्वार का 43 डिग्री, ऋषिकेश का 42 डिग्री और नैनीताल का भी 33 डिग्री के पार पहुँच चुका है, जिससे इस बार पहाड़ों पर भी गर्मी से राहत नहीं मिल पा रही है। मौसम विभाग अगले एक सप्ताह तक बारिश होने की संभावना तक से मना कर रहा है, ऐसे में आग पहाड़ों को बर्बाद कर देगी, साथ ही उत्तराखंड के लोग तबाह हो जायेंगे।

Leave a Reply