दशमोत्तर छात्रवृत्ति की सीडीओ ने की समीक्षा

दशमोत्तर छात्रवृत्ति की सीडीओ ने की समीक्षा

  • चार कालेजों से आवेदन प्राप्त न होने से सीडीओ खफा
विकास भवन स्थित सभा कक्ष में आयोजित दशमोत्तर छात्रवृत्ति की समीक्षा करते सीडीओ उदयराज सिंह
विकास भवन स्थित सभा कक्ष में आयोजित दशमोत्तर छात्रवृत्ति की समीक्षा करते सीडीओ उदयराज सिंह

दशमोत्तर छात्रवृत्ति हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 जनवरी होने के बावजूद भी ऐस इंस्टीट्यूट उझानी, डीपी डिग्री कालेज सहसवान सहित बिल्सी एवं अलापुर के कुल चार कालेजों द्वारा अब तक डीआईओएस कार्यालय को आवेदन पत्र अग्रसारित न करने पर मुख्य विकास अधिकारी उदयराज सिंह ने कड़ी नाराजगी व्यक्त की है।
श्री सिंह आज विकास भवन स्थित सभा कक्ष में आयोजित दशमोत्तर छात्रवृत्ति हेतु प्राप्त हो चुके आवेदन पत्रों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि 31 जनवरी तक डीआईओएस कार्यालय द्वारा समाज कल्याण कार्यालय को आवेदन पत्र इंटर कालेजों द्वारा अग्रसारित करने की तिथि पूर्व से ही निश्चित होने के बाद भी छात्रवृत्ति के आवेदन अग्रसारित न करने के लिए सम्बंधित कालेज ही जिम्मेदार होगें। उन्होंने निर्देश दिए कि इन कालेजों द्वारा अतिशीघ्र आवेदन पत्र प्राप्त करने के कार्रवाई अमल में लाई जाए। 31 जनवरी के बाद साफ्टवेयर लॉक हो जाएगा। ज्ञातव्य हो कि इस बार दशमोत्तर छात्रवृत्ति के आवेदन पत्र ऑन लाइन भरवाए जा रहे हैं।
जिला समाज कल्याण अधिकारी कुसुम कुमरा ने बताया है कि इण्टर कालेजों के पिछड़ा वर्ग जाति के 4389, अनुसूचित जाति के 1991, सामान्य जाति के 1679 तथा डिग्री कालेजों के पिछड़ा वर्ग के 948, अनुसूचित जाति के 553 तथा सामान्य जाति के 609 आवेदन पत्र डीआईओएस कार्यालय द्वारा समाज कल्याण कार्यालय को प्राप्त हो गए है। इस अवसर पर जिला विद्यालय निरीक्षक बीना यादव, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी जहीर अब्बास, जीजीआईसी प्रधानाचार्य नूतन रानी, दास डिग्री कालेज के प्राचार्य वीके शर्मा उपस्थित रहे।
                    

Leave a Reply