डकैती: सैफई महोत्सव से लौटे प्रधान पति की हत्या

डकैती: सैफई महोत्सव से लौटे प्रधान पति की हत्या
जिला अस्पताल के सामने जाम लगाते आक्रोशित लोग
जिला अस्पताल के सामने जाम लगाते आक्रोशित लोग

बदायूं में डकैती की सनसनीखेज वारदात के दौरान एक प्रधान पति की बदमाशों ने गोली मार कर हत्या कर दी। दो अन्य घायल भी हुए हैं। घटना के बाद बदमाश लाखों के माल सहित फरार हो गये। आक्रोशित लोगों ने जाम लगा दिया है। मृतक देर रात सैफई महोत्सव से लौटा था।

घटना बदायूं में बिनावर थाना क्षेत्र के गाँव टिटौली की है। बताया जाता है कि मई रजऊ निवासी प्रधान पति गंगा दयाल तमाम प्रधानों के साथ रोडवेज बस से सैफई महोत्सव में सम्मलित होने गया था। देर रात बस ने सभी प्रधानों को सालारपुर विकास खंड कार्यालय पर छोड़ दिया, तो अपने गाँव तक जाने का कोई साधन न होने के कारण गंगा दयाल टिटौली में प्रधान राजेश के घर ही रुक गया। यहाँ रात तीन बजे के करीब सशस्त्र बदमाशों ने धावा बोल दिया। विरोध करने पर बदमाशों ने गंगा दयाल और राजेश के भाई शिवदेस को गोली मार दी, जिससे गंगा दयाल की मौत हो गई। बदमाशों ने प्रधान राजेश के पिता नत्थू को भी पीटा, वह घायल हैं।

दुस्साहसिक घटना को अंजाम देकर बदमाश साठ हजार की नकदी, एक लाख का मेंथा तेल और साठ हजार से भी अधिक मूल्य के जेवर लूट कर फरार हो गये। घटना की सूचना फैलते ही समूचे इलाके में आक्रोश नज़र आ रहा है। आक्रोशित लोगों ने बदायूं में जिला अस्पताल के सामने रोड जाम कर रखा है। घटना के संबंध में यह खुलासा अभी नहीं हो पाया है कि बदमाशों का इरादा लूट था या डकैती। यहाँ बता दें कि मृतक प्रधान पति गंगा दयाल के पिता रघुवीर प्रधान थे और उनकी वर्ष 2010 में हत्या हुई थी, उनके बाद गंगा दयाल की पत्नी सूरज कुमारी प्रधान चुनी गईं। अधिकाँश लोगों का कहना है कि सैफई से लौटी बस ने प्रधानों को घर-घर छोड़ा होता, तो गंगा दयाल बच जाता।

Leave a Reply