चर्चित एसएसपी ने कमांडो हटाये, पर केस में नतीजा शून्य

चर्चित एसएसपी ने कमांडो हटाये, पर केस में नतीजा शून्य
स्वूमिंग पूल के किनारे बैठे एसएसपी हरिद्वार राजीव स्वरूप
स्वूमिंग पूल के किनारे विधायक के साथ बैठे एसएसपी हरिद्वार राजीव स्वरूप

                                                  किरन कांत

उत्तराखंड में चर्चित हो चुके हरिद्वार के एसएसपी राजीव स्वरूप ने खबर प्रकाशित होने के बाद अपनी सुरक्षा में तैनात कर रखे चर्चित कमांडो हटा दिए हैं, जबकि अभी तक पुलिस विभाग के बड़े अफसरों के साथ खुद मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा भी एसएसपी की सुरक्षा में लगे कमांडो को सही ठहरा रहे थे।

उल्लेखनीय है कि एसएसपी राजीव स्वरूप अब तक कहीं भी जाते थे, तो उनके साथ स्पेशल कमांडो साये की तरह साथ जाते थे। सड़क पर वह मुख्यमंत्री की तरह ही निकलते थे। इतना ही नहीं, उनके यह कमांडो ऑफिस में भी उनके पीछे एक दम सतर्कता के साथ तैनात रहते थे। बताया जाता है कि एसएसपी के साथ चलने वाले कमांडो की तीन सिफ्ट बना रखी थीं। उनकी सुरक्षा में तैनात 18 कमांडों पर पांच लाख रूपये प्रति महीने से अधिक खर्च हो रहे थे, साथ ही एके-47 जैसी अत्याधुनिक रायफल भी बेवजह उनकी सुरक्षा में लगी हुई थीं और कमांडो को बैठने के लिए दो अतिरिक्त गाड़ियाँ उनके साथ चलती थीं। इसके अलावा एसएसपी साहब कभी विधायक के साथ बुलेट पर घुमते नज़र आते थे, तो कभी स्विमिंग पूल के किनारे विधायक के साथ मस्ती करते हुए, जिससे वह हरिद्वार में चर्चा का विषय बन गये थे। यही खबर गौतम संदेश ने प्रमुखता से प्रकाशित की, तो तहलका मच गया, जिससे हुई फजीहत के बाद एसएसपी ने अपने कमांडो हटा दिए हैं।

एसएसपी हरिद्वार राजीव स्वरूप
एसएसपी हरिद्वार राजीव स्वरूप

उधर फेरूपुर में बलात्कार के बाद हुई किशोरी की हत्या की घटना का भी तक खुलासा नहीं हुआ है, जबकि 40 दरोगाओं की सात बनाई गई हैं, जो रात-दिन काम करने का दावा कर रही हैं। इस मामले को लेकर एसएसपी पर भारी दबाव है, जिससे सौ से अधिक लोगों के खून के सेंपल लेकर जांच कराई जा चुकी है, साथ ही सात लोगों का डीएनए टेस्ट कराया जा रहा है, पर पुलिस के हाथ अभी तक खाली ही हैं, इस बारे में बात करने पर एसएसपी राजीव स्वरूप ने कुछ भी कहने से इंकार कर दिया।

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

एसएसपी खुद एके-47 के बीच और जनता भगवान भरोसे

उत्तराखंड में जंगलराज, बलात्कार के बाद किशोरी की हत्या

Leave a Reply