गोली मारने वाली महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष गई जेल

गोली मारने वाली महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष गई जेल
पुलिस हिरासत में भी मोबाइल हाथ में लिए रीता राजपूत
पुलिस हिरासत में भी मोबाइल हाथ में लिए रीता राजपूत

प्रापर्टी डीलर के बेटे पर दो फायर करने के आरोप में गिरफ्तार भाजपा महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष रीता राजपूत को कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। भाजपा नेत्री की गिरफ्तारी पर भाजपाई कुछ नहीं बोल रहे हैं और न ही कोई थाने में उनसे मिलने आया, साथ ही पति और बेटी भी नज़र नहीं आये।

उल्लेखनीय है कि भाजपा महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष रीता राजपूत लखनऊ के शताब्दी नगर में रहती हैं। रामगढ़-पंजीपुर के प्रापर्टी डीलर हरी सिंह के साथ मिल कर वह व्यवसाय करती हैं। हरी सिंह के बेटे सुमित का आरोप है कि दो साल से उसके पिता रीता के घर पर ही रहते हैं, उन्हीं को समझाने के लिए वह शुक्रवार की सुबह बहनों के साथ रीता के घर आया था। आरोप है कि पिता से बात करते समय रीता अचानक सामने आकर कड़ी हो गईं और बाहर जाने को कहने लगीं। उनसे बीच में न बोलने का निवेदन किया, तो तमंचे से गोली मार दी, उन्होंने लगातार दो फायर किए, पर वह किसी तरह बच गया। सुमित की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने तमंचा व दो खोखे बरामद करने के साथ ही रीता को कल ही गिरफ्तार कर लिया था।

शनिवार सुबह रीता को पुलिस ने सीजेएम कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। बताया जाता है उनके पति नेत्रपाल सिंह मेरठ में जिला गन्ना पर्यवेक्षण अधिकारी हैं और इकलौती बेटी दिल्ली में पढ़ रही है, पर घटना के बाद दोनों ही नज़र नहीं आये, साथ ही कोई भाजपा नेता भी आसपास नहीं दिखा।

Leave a Reply