गैस की कालाबाजारी करने वालों के यहां होगी छापामारी

गैस की कालाबाजारी करने वालों के यहां होगी छापामारी

बदायूं के जिलाधिकारी सीपी त्रिपाठी के आदेश पर कुकिंग गैस की कालाबाजारी करने वालों के यहां छापामारी कर जिला पूर्ति अधिकारी द्वारा धरपकड़ की जाएगी। उक्त आशय की जानकारी देते हुए जिला पूर्ति अधिकारी सत्यदेव ने बताया है कि जनपद में कुकिंग गैस को अवैध रूप से इस्तेमाल करने वालों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई हेतु आगामी एक सप्ताह तक छापामारी कर धरपकड़ की जाएगी। उन्होंने बताया कि सड़कों पर ठेला आदि लगाकर घरेलू कुकिंग गैस का अवैध रूप से प्रयोग करने वालों के अलावा होटलों एवं रेस्टोरेंट एवं शादी आदि की पार्टियों में प्रयोग करने वालों के विरूद्ध कल (आज) 29 नवम्बर, 2013 से छापामार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी और पकड़े जाने पर दोषियों के विरूद्ध नियमानुसार सख्त कार्रवाई की जाएगी।

कलेक्ट्रेट स्थित सभा कक्ष में लोक शिक्षा एवं साक्षरता केन्द्रों की समीक्षा करते चन्द्रकांत त्रिपाठी और मुख्य विकास अधिकारी उदयराज सिंह
कलेक्ट्रेट स्थित सभा कक्ष में लोक शिक्षा एवं साक्षरता केन्द्रों की समीक्षा करते चन्द्रकांत त्रिपाठी और मुख्य विकास अधिकारी उदयराज सिंह
  • फर्जीबाड़े को कतई बर्दाश्त नहीं किया जएगा: डीएम

साक्षरता भारत मिशन अन्तर्गत संचालित बेसिक साक्षरता एवं लोक शिक्षा केन्द्रों में जिलाधिकारी सीपी त्रिपाठी ने फर्जीबाड़ा मानते हुए कागजों में चलने वाले केन्द्रों की जांच कराने के आदेश देते हुए सम्पूर्ण जनपद में तीन से पांच बजे तक शिक्षण कार्य कराने के निर्देश दिए हैं।
श्री त्रिपाठी और मुख्य विकास अधिकारी उदयराज सिंह आज कलेक्ट्रेट स्थित सभा कक्ष में लोक शिक्षा एवं साक्षरता केन्द्रों की समीक्षा कर रहे थे। जिलाधिकारी ने जनपद के समस्त लोक शिक्षा एवं साक्षरता केन्द्रों की उप जिलाधिकारियों, खण्ड विकास अधिकारियों तथा एडीओ, ग्राम पंचायत अधिकारियों से जांच कराने के निर्देश दिए हैं। जिलाधिकारी ने समस्त केन्द्रों को तीन से पांच बजे तक ही चलाने के निर्देश दिए जिससे जांच में जाने वाले अधिकारियों को बहाने न सुनने पड़ें कि मैंने सुबह में पढ़ा दिया है।
जिलाधिकारी ने बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए कि सभी केन्द्रों  का सत्यापन कर फोटोग्राफी कराई जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि साक्षरता एवं लोक शिक्षा केन्द्रों की कागजी कार्रवाई बन्द कर वास्तविकता सामने लाई जाए उसके बाद की अग्रिम कार्रवाई सम्भव होगी।
बेसिक शिक्षा अधिकारी कृपा शंकर वर्मा ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि जनपद में 1069 लोक शिक्षा केन्द्र तथा 38815 साक्षरता केन्द्र संचालित हैं। लोक शिक्षा केन्द्रों पर दो-दो प्रेरक तथा साक्षरता केन्द्रों पर बीटी द्वारा शिक्षण कार्य किए जाने के अलावा जिला एवं ब्लाक समन्वयक भी इस योजना में कार्य कर रहे हैं। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी उदयराज सिंह, डीआरडीए के पीडी रामरक्षपाल सहित वित्त एवं लेखाधिकारी ब्रजेश कुमार, सहायक कोषाधिकारी मुहम्मद शकील सहित जिला स्तरीय समन्वयक मौजूद रहे।

  • मण्डी से लाईसेंस न बनने की समस्या एडीएम को बताएं: सीडीओ

बदायूं की मण्डी परिषद द्वारा बनाए जाने वाले लाईसेंस में व्यापारियों को होने वाली परेशानियों को मुख्य विकास अधिकारी उदयराज सिंह ने गम्भीरता से लेते हुए कहा कि जिन मण्डी परिषदों में समस्याएं हैं उनके सम्बन्ध में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व को अवगत कराकर समाधान कराया जाए।
श्री सिंह आज कलेक्ट्रेट स्थित सभा कक्ष में अपर जिलाधिकारी वित्त उवं राजस्व शीलधर यादव के साथ उधोग बन्धु की बैठक में व्यापारियों की समस्याओं के निराकरण और शासकीय योजनाओं की समीक्षा कर रहे थे। व्यापारियों की मांग पर सीडीओ ने उधोग केन्द्र के प्रभारी प्रबन्धक को निर्देश दिए कि सालारपुर स्थित अद्यौगिक संस्थान में आवंटन भूखण्डों, बन्द पड़ी इकाईयों एवं ऋण आदि के कारण बन्द हो चुकीं इकाईयों का विवरण तैयार कर व्यापारियों को उपलब्ध कराया जाए। शहर के अग्नि शमन विभाग की गाड़ियों में पानी उपलब्ध कराने वाले स्थानों का सर्वे कराकर उन्हें चालू कराने की मांग पर मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि यह अत्यन्त महत्वपूर्ण समस्या है और इसका शीघ्र ही निदान कराया जाएगा। प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम में बैंकों द्वारा स्वीकृत पत्रावलियों पर ऋण न जारी करने की समस्या के समाधान पर सीडीओ ने निर्देश दिए कि जिलाधिकारी की ओर से एलडीएम को पत्र जारी किया जाए। सीडीओ ने उधोग क्षेत्र में बढ़ावे हेतु शासकीय योजनाओं की जानकारी के लिए सेमीनार भी आयोजित कराने के निर्देश दिए हैं। इस अवसर पर उधोग बन्धु समिति के व्यापारी बन्धुओं के अलावा जिला स्तरीय अधिकारीगण मौजूद रहे।

Leave a Reply