किसी कीमत पर न निकलने दें विजय जुलुस: जावेद उस्मानी

किसी कीमत पर न निकलने दें विजय जुलुस: जावेद उस्मानी
मुख्य सचिव जावेद उस्मानी
मुख्य सचिव जावेद उस्मानी
उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव जावेद उस्मानी ने समस्त मण्डलायुक्तों, पुलिस महानिरीक्षकों, पुलिस उप महानिरीक्षकों एवं जिलाधिकारियों तथा पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिए हैं कि आगामी 16 मई को मतगणना समाप्त होने पर भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार विजय जुलूस आदि निकालने पर लागू प्रतिबन्धों का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराया जाय। चुनाव परिणाम घोषित होने के उपरान्त भी जनपद के नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में कम से कम 15 दिन अथवा जब तक आवश्यक हो विशेष सतर्कता रखी जाए, ताकि आगामी समय में विभिन्न वर्गाें एवं राजनीतिक दलों के मध्य किसी प्रकार का तनाव उत्पन्न न होने पाए और हिंसात्मक घटनाएं होने की सम्भावना न रहे।
श्री उस्मानी ने कहा कि लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2014 के समस्त चरणों में शान्ति पूर्वक मतदान सम्पन्न कराने हेतु प्रमुख सचिव गृह, पुलिस महानिदेशक एवं मण्डल एवं जनपद स्तर पर तैनात समस्त वरिष्ठ अधिकारी बधाई के पात्र हैं। उन्होंने कहा कि मतगणना के दौरान यह सुनिश्चित कराए जाए कि मतगणना स्थल के बाहर अनावश्यक रूप से अत्यधिक भीड़ एकत्रित न होने पाए और भीड़ को नियन्त्रित किया जाय तथा महिला पुलिस अधिकारी एवं महिला आरक्षी भी पर्याप्त संख्या में तैनात किये जाए। उन्होंने कहा कि मतगणना स्थल से 100 मीटर पूर्व ही वाहनों को रोक दिया जाए, ताकि शान्ति व्यवस्था भंग होने की कोई भी किंचित भी सम्भावना न हो। उन्होंने कहा कि अग्निशमन व्यवस्था, एम्बुलेन्स एवं पेयजल आदि की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाए। उन्होंने कहा कि मतगणना स्थल के बाहर आवश्यकतानुसार बैरीकेडिंग आदि की व्यवस्था सुनिश्चित कराते हुए पर्याप्त पुलिस बल तैनात की जाए, ताकि विभिन्न राजनीतिक दलों में आपसी वाद-विवाद न पैदा हो तथा शान्ति व्यवस्था बनी रहे।
मुख्य सचिव आज योजना भवन में वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से मण्डलों एवं जनपदों में तैनात पुलिस महानिरीक्षकों, मण्डलायुक्तों, पुलिस उपमहानिरीक्षकों एवं जिलाधिकारियों तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों को मतगणना कार्य सुचारू रूप से सम्पादित कराने हेतु आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि विजयी प्रत्याशियों, विशेष रूप से अतिविशिष्ट विजयी प्रत्याशियों की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित की जाए एवं भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मतगणना की विधिवत तैयारिया समय से पूर्ण कर ली जाय। उन्होंने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मुख्यालयों पर मीडिया सेण्टर की स्थापना की जाए, जिसमें प्रेस ब्रीफिंग हेतु एक आॅफिस इंचार्ज अवश्य तैनात किया जाए। मतगणना के दौरान एवं उसके उपरान्त ध्वनि विस्तारक यंत्र के माध्यम से समय-समय पर आवश्यक उद्घोषणाओं की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि मतगणना समाप्त होने के उपरान्त विभिन्न राजनीतिक दलों एवं समाज के विभिन्न वर्गाें में किसी प्रकार की कटुता व तनाव न उत्पन्न होने पाए इस हेतु पर्याप्त मात्रा में मजिस्ट्रेट एवं पुलिस बल उपलब्ध एवं भ्रमणशील रहें।
प्रमुख सचिव गृह डाॅ0 अनिल कुमार गुप्ता ने भी निर्देश दिए कि समस्त जिला मजिस्ट्रेट मतगणना से पूर्व पुलिस अधिकारियों के साथ भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा कर तद्नुसार आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित कराए। उन्होंने कहा कि मतगणना स्थल पर निर्बाध विद्युत व्यवस्था सुनिश्चित की जाए, ताकि चुनाव परिणाम घोषित होने में यदि शाम या रात्रि हो जाती है, तो ऐसी दशा में मतगणना स्थल के अन्दर एवं बाहर आवश्यकतानुसार प्रकाश की समुचित व्यवस्था बनी रहे। उन्होंने कहा कि अमनचैन का वातावरण बनाए रखने हेतु सहभागिता का माहौल बनाना होगा, ताकि किसी प्रकार की अप्रिय घटना न घटित होने पाए। उन्होंने कहा कि मण्डल एवं जनपदों में तैनात केन्द्रीय अर्द्ध सैनिक बल(सी0पी0एम)  मतगणना पूर्ण हो जाने के पश्चात् भी आगामी 18 मई तक तथा  पी0ए0सी0 अग्रिम आदेशों तक यथावत तैनात रहेगी, ताकि किसी प्रकार की अप्रिय घटना न घटित होने पाये । उन्होंने कहा कि मतगणना के उपरान्त भी समस्त पुलिस अधीक्षक विशेष सर्तकता बरतें।
पुलिस महानिदेशक आनन्द बनर्जी ने कहा कि वरिष्ठ अधिकारी अपने दायित्वों का तत्परता एवं तन्मयता के साथ निर्वहन करें और अधिक से अधिक वायरलेस सेट का प्रयोग करें, ताकि अधिक से अधिक लोगों को आवश्यक निर्देशों की जानकारी समय से मिल सके। वीडियों कांफ्रेसिंग में सचिव गृह अमृत अभिजात, अपर पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) मुकुल गोयल सहित पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारीगण मौजूद थे।

Leave a Reply