उप्र में एमबीबीएस पाठ्यक्रम में 500 सीटों की वृद्धि

उप्र में एमबीबीएस पाठ्यक्रम में 500 सीटों की वृद्धि
– चिकित्सा शिक्षा के पी0जी0 पाठ्यक्रम के लिए प्रदेश में 30 सीटें बढ़ीं
– सुपर स्पेशियलिटी (डीएम/एमसीएच) पाठ्यक्रमों में 11 सीटों की वृद्धि
जानकारी देते सरकारी प्रवक्ता
जानकारी देते सरकारी प्रवक्ता

उत्तर प्रदेश में चिकित्सकों की कमी दूर करने और चिकित्सा शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार ने पिछले एक वर्ष में एमबीबीएस पाठ्यक्रम में 500 सीटों की वृद्धि की है, जो चिकित्सा शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय उपलब्धि है। यह वृद्धि 40 प्रतिशत से भी अधिक है। इसके साथ ही, पीजी पाठ्यक्रम के लिए भी प्रदेश में कुल 30 सीटें बढ़ीं हैं और सुपर स्पेशियलिटी (डीएम/एमसीएच) पाठ्यक्रमों में 11 सीटों की वृद्धि हुई है। सीटों में अभी और भी वृद्धि किए जाने की प्रक्रिया चल रही है। इससे ग्रामीण क्षेत्रों के साथ-साथ प्रदेश में चिकित्सकों की संख्या में वृद्धि हो सकेगी और लोगों को बेहतर स्वास्थ्य व चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध होंगी।

राज्य सरकार के प्रवक्ता ने यह जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश में कुल सात राजकीय मेडिकल कालेजों एवं किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय, लखनऊ तथा उत्तर प्रदेश ग्रामीण आयुर्विज्ञान संस्थान, सैफई इटावा में वर्ष 2012 के पूर्व एमबीबीएस की 1140 सीटें उपलब्ध थीं। पिछले एक वर्ष में चिकित्सा शिक्षा विभाग द्वारा एमबीबीएस पाठ्यक्रम की सीटों में वृद्धि करने तथा कई मेडिकल कालेजों को स्थापित कर संचालित करने की बड़ी उपलब्धि हासिल की गई है।
जनपद कन्नौज, आजमगढ़ तथा जालौन में नए मेडिकल कालेज स्थापित कर संचालित किए गए, जिनसे प्रदेश में एमबीबीएस पाठ्यक्रम में 300 सीटों की वृद्धि हुई। इसके अतिरिक्त इलाहाबाद व मेरठ के मेडिकल कालेजों में एमबीबीएस की 100-100 सीटों में 50-50 सीटों की वृद्धि कर 150-150 सीटें की गई हैं। गोरखपुर मेडिकल कालेज में एमबीबीएस की 50 सीटों को बढ़ाकर 100 सीटों की अनुमति मेडिकल काउन्सिल आफ इण्डिया (एमसीआई) से प्राप्त की गई है। इसी प्रकार उत्तर प्रदेश ग्रामीण आयुर्विज्ञान संस्थान, सैफई इटावा में एमबीबीएस की 100 सीटों को बढ़ाकर 150 सीटों की अनुमति एमसीआई से प्राप्त की गई। कुल मिलाकर पिछले एक वर्ष में एमबीबीएस पाठ्यक्रम में 500 सीटों की वृद्धि हुई है।
मेडिकल कालेज गोरखपुर व झांसी तथा उत्तर प्रदेश ग्रामीण आयुर्विज्ञान संस्थान, सैफई इटावा में कुल 30 पी0जी0 सीटों की मान्यता एमसीआई से प्राप्त की गई है। इसके अलावा सुपर स्पेशियलिटी (डीएम/एमसीएच) की 45 सीटों को बढ़ाकर 56 सीटों की मान्यता एमसीआई से प्राप्त की गई है।

Leave a Reply