अविश्वास प्रस्ताव लाने की कार्रवाई शुरू

अविश्वास प्रस्ताव लाने की कार्रवाई शुरू
नरेश प्रताप सिंह और चेतना सिंह के साथ डीएम से मिलते जिला पंचायत सदस्य
नरेश प्रताप सिंह और चेतना सिंह के साथ डीएम से मिलते जिला पंचायत सदस्य

बदायूं में जिला पंचायत अध्यक्ष के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव लाने का प्रयास शुरू हो गया है। निवर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष चेतना सिंह और उनके पति नरेश प्रताप सिंह के साथ जाकर जिला पंचायत सदस्यों ने जिला अधिकारी के समक्ष शपथपत्र सहित प्रार्थना पत्र प्रस्तुत कर अग्रिम कार्यवाही की मांग की।

बसपा शासन में हुए पिछले जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में डीपी यादव के साले भारत सिंह यादव की पत्नी पूनम यादव ने चेतना सिंह यादव को सत्ता का दुरूपयोग कर हरा दिया था। चेतना सिंह के विरोधियों ने हार के साथ यह अफवाह भी फैला दी कि चेतना सिंह ने अंदरूनी तौर पर पूनम यादव को समर्थन दे दिया था, जिससे पार्टी नेतृत्व ने उन्हें पार्टी से बाहर निकाल दिया था। बाद में नरेश प्रताप सिंह ने सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव से मिलकर सच्चाई बताई, तो उनकी पार्टी में पुनः वापसी हो गयी। प्रदेश में सपा सरकार आने के बाद नरेश प्रताप सिंह भी अपनी हार का बदला लेने के लिए उतावले हो उठे पर सपा का उनका विरोधी गुट पूनम यादव से मिल गया, जिससे वह अविश्वास प्रस्ताव नहीं ला पा रहे थे।

पिछले दिनों सैफई महोत्सव के दौरान 30 से अधिक जिला पंचायत सदस्यों को साथ ले जाकर नरेश प्रताप सिंह और चेतना सिंह ने सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव से मिलकर अपनी शक्ति का अहसास कराया, तो सपा सुप्रीमो ने अविश्वास प्रस्ताव लाने की हरी झंडी दे दी। इसके बावजूद नरेश प्रताप सिंह का विरोधी गुट पूनम यादव को अन्दरखाने लगातार मदद कर रहा है, जिसकी परवाह छोड़ नरेश प्रताप सिंह और चेतना सिंह अविश्वास प्रस्ताव लाने की कार्रवाई शुरू कर दी है, इससे पहले वह 23 सदस्यों के साथ सांसद धर्मेन्द्र यादव से भी मिले थे और सभी सदस्यों ने अविश्वास प्रस्ताव लाने की मांग की थी।

Leave a Reply