अफसरों के साथ जिला जज ने जेल का निरीक्षण किया

अफसरों के साथ जिला जज ने जेल का निरीक्षण किया
बदायूं के जनपद न्यायाधीश प्रमोद कुमार चतुर्वेदी जिला जेल का निरीक्षण कर बाहर निकलते हुए
बदायूं के जनपद न्यायाधीश प्रमोद कुमार चतुर्वेदी जिला जेल का निरीक्षण कर बाहर निकलते हुए

बदायूं की जिला जेल में बंदियों को बरेली रैफर करने की प्रथा पर अधिकारियों ने नाराजगी जताई। बदायूं के जनपद न्यायाधीश प्रमोद कुमार चतुर्वेदी ने चिंता व्यक्त करते हुए इस प्रकरण को गंभीरता से संज्ञान लिया है।
जनपद न्यायाधीश प्रमोद कुमार चतुर्वेदी व जिलाधिकारी सीपी त्रिपाठी ने आज एसपी सिटी एमएस चौहान तथा अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) मनोज कुमार के साथ जिला कारागार का मौका मुआयना किया। सरोजनी नायडू महिला बैरिक में दो बंदी महिलाओं का मोतिया बिन्द का आपरेशन कराने की जानकारी पर जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि गांधी नेत्र चिकित्सालय के डा. तारिक अख्तर द्वारा आपरेशन कराने की कार्रवाई पूर्ण कराई जाए। जनपद न्यायाधीश ने कई बंदियों से उनकी समस्याएं जानने के बाद निर्देश दिए कि 12 मार्च, 2014 को आयोजित होने वाली मेगा लोक अदालत में इन बंदियों के प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किए जाएं, जिससे इनको जिला कारागार से निजात मिल सके। डीजे ने कई बंदियों के नाखून बड़े हुए पाए जाने पर इससे होने वाली बीमारियों की जानकारी देते हुए नाखून काटने की सलाह दी।
जिला कारागार की महिला बैरिक में बंदी महिलाओं के साथ आने वाले छोटे बच्चों के खेलने के लिए 45 हजार की लागत से एक हाल का निर्माण कराया जाएगा। इस हाल में बच्चों के खेलने के लिए खिलौने भी रखे जाएंगे। भूतपूर्व सैनिक धनपाल सिंह बन्दी ने अधिकारियों को अपनी समस्या से अवगत कराते हुए कहा कि पीएनबी की उसावां शाखा से उसकी पेंशन के आधार पर फर्जी ऋण निकाल लिया है, जिस पर जिलाधिकारी ने कहा कि इसकी जांच कराई जाएगी और गत दिनों वह एक फर्जी ऋण निकालने के प्रकरण में शाखा प्रबन्धक के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा चुके हैं। इस अवसर पर जेलर उमेश सिंह, जिला कारागार के चिकित्सक डा. एनके गुप्ता सहित अन्य कारागार स्टाफ मौजूद रहा।

Leave a Reply