बदायूं जिले में भी उल्लास के साथ मना अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

जिलाध्यक्ष कुलदीप वार्ष्णेय के नेतृत्व में शिक्षकों को सम्मानित करती भाजयुमो की टीम।
जिलाध्यक्ष कुलदीप वार्ष्णेय के नेतृत्व में शिक्षकों को सम्मानित करती भाजयुमो की टीम।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस बदायूं जिले में भी पूरी श्रद्धा, आस्था और हर्षोल्लास पूर्वक मनाया गया। जगह-जगह शिविर लगाये गये, वहीं लोगों ने अपने घरों में भी योगासन किये। इस अवसर पर भाजयुमो ने योग गुरुओं को सम्मानित किया।

वेदामऊ वैदिक विद्यापीठ संस्कृत महाविद्यालय में वृहद योग शिविर लगाया गया, जिसमें गुरुकुल सूर्यकुण्ड संस्कृत महाविद्यालय के शिष्यों ने भी हिस्सा लिया। योग शिविर कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्कृत महाविद्यालय के संस्थापक आचार्य वेदव्रत आर्य ने की। उन्होंने योग के माध्यम से निरोगी काया कायम रखने के महत्वपूर्ण सूत्र बताए। श्री आर्य ने कहा कि योग के आठ नियम अति प्रमुख हैं, जिनमें यम, नियम, संयम, प्राणायाम, प्रत्याहार, धारणा, ध्यान और समाधि उल्लेखित है। देवभाषा संस्कृत के विद्वान आचार्य वेदव्रत आर्य ने जनसमूह को प्ररित करते हुए कहा कि इन आठ नियमों के पालन करने से मनुष्य का जीवन सदैव संयमित रहता है। ब्रह्मचारी यादराम ने योग को स्वस्थ शरीर की आवश्यकता बताया। गुरुकुल संस्कृत महाविद्यालय के प्रभारी प्राचार्य जगन्नाथ प्रसाद शास्त्री ने छात्र जीवन में योग क्रियाओं के महत्व को समझाया।

भाजयुमो के जिलाध्यक्ष कुलदीप वार्ष्णेय और उनके कार्यकारणी के पदाधिकारियों ने योग गुरुओं को सम्मानित किया, इस अवसर पर आचार्य मदन लाल मौर्य, रामदास राठौर, महेन्द्र पाल यादव, शिवसिंह यादव, वेदवीर आर्य, वेदमित्र आर्य, राकेश कुमार, सर्वेश कुमार गुप्ता ,वेदरत्न आर्य के अलावा वेदामऊ वैदिक विद्यापीठ व गुरुकुल संस्कृत महाविद्यालय का छात्र समूह योग कार्यक्रम में उपस्थित रहा। कार्यक्रम समापन से पूर्व संस्थापक वेदव्रत आर्य व कुलदीप वार्ष्णेय ने आगन्तुकों का आभार व्यक्त किया।

जिला पंचायत सभागार में नेहरू युवा केन्द्र के तत्वाधान में योग दिवस पर विषय योग एवं सामजस्य पर एक युवा सम्मेलन का आयोजन किया गया, जिसमें विभिन्न युवा मंडलों के युवाओं ने प्रतिभागिता की। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जनपद बदायूं की जिला पंचायत अध्यक्ष पूनम यादव एवं पूर्व एम.एल.सी. भारत सिंह यादव रहे। मुख्य अतिथि ने स्वामी विवेकानन्द के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित एवं माल्यार्पण कर कार्यक्रम का विधिवत शुभारम्भ किया।

नेहरू युवा केन्द्र के युवा सम्मेलन में मंचासीन मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष पूनम यादव एवं पूर्व एम.एल.सी. भारत सिंह यादव व अन्य अतिथिगण।
नेहरू युवा केन्द्र के युवा सम्मेलन में मंचासीन मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष पूनम यादव एवं पूर्व एम.एल.सी. भारत सिंह यादव व अन्य अतिथिगण।

इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष पूनम यादव ने युवाओं को सम्मानित करते हुये कहा कि युवा ही शक्ति हैं, समय-समय पर युवाओं के नेहरू युवा केन्द्र के कार्यकमों में आकर मुझे युवाओं से मार्गदर्शन मिलता है, साथ ही महिला सशक्तीकरण पर बोलते हुये कहा कि लड़के जो परिवार को नहीं निभा पाते, वो वही लड़कियाँ निभाती हैं, वह अपने सम्पूर्ण जीवन मेें दो घर संभालती हैं, साथ ही भ्रूण हत्या पर बोलते हुये कहा कि हमें बेटियों को बचाना होगा, अन्यथा वह दिन दूर नहीं, जब उत्तर प्रदेश भी लड़कियों की संख्या में हरियाणा से आगे निकल जाये।

पूर्व एम.एल.सी. भारत सिंह ने कहा कि योग दिवस का श्रेय हमारे भारत वर्ष के प्रधानमंत्री एवं पतंजलि योग पीठ के योगाचार्य बाबा रामदेव को जाता है। आगे कहा कि जैसे-जैसे हमारे शरीर की उम्र बढ़ती जाती है, वैसे-वैसे हमारे शरीर में शिथिलतायें आती जाती हैं, योग के द्वारा हम अपनी शिथिलताओं को काफी हद तक दूर कर सकते हैं। योग करते रहेंगे, तो शरीर का एक-एक अंग हमेशा ठीक तरह से कार्य करता रहेगा। इस अवसर पर एएमए संभल महावीर सिंह ने कहा कि योग मानव शरीर को स्वस्थ्य रखने की एक सरल व सबसे सस्ती प्रक्रिया है। इसे बिना किसी खर्च के निरंतर किया जा सकता है, इस अवसर पर पतंजलि योग पीठ बदायूं के प्रभारी सत्येन्द्र सिंह यादव ने कहा कि योग एक ईधन है। जिम्नास्टिक एक तेज प्रक्रिया है, जबकि योग एक शारीरिक ऊर्जा बढ़ाने वाली प्रक्रिया है। इस अवसर पर सांसद आंवला धर्मेन्द्र कश्यप के प्रतिनिधि राहुल चौहान, अमरदीप राठौर, सुधीर यादव, वीरेश तोमर, कश्मीर सिंह, कु. प्रतिभा चन्देल, कलाकार मोहित, पूजा मिश्रा ,मोनी और यामिनी राठौर के अलावा संजीव, अमरपाल, नीतीश, प्रदीप यादव, प्रमोद यादव, वीरेश, पंकज, नरवेश, हरवेश, चन्द्रविजय, रेवाराम, सौरभ राठौर, दीपक, रोहित आदि लोगों की गरिमामयी  उपस्थिति रही।

Leave a Reply