यूपी बोर्ड ने इंटर व हाई स्कूल का परिणाम घोषित किया

यूपी बोर्ड ने इंटर व हाई स्कूल का परिणाम घोषित किया
यूपी बोर्ड ने इंटर व हाई स्कूल का परिणाम घोषित किया
उत्तर प्रदेश के माध्यमिक शिक्षा मंत्री महबूब अली ने बताया कि माध्यमिक शिक्षा परिषद्, उत्तर प्रदेश द्वारा संचालित हाईस्कूल तथा इण्टरमीडिएट वर्ष- 2015 का परीक्षा परिणाम प्रथम बार एक साथ आज रविवार को डाॅ. अवध नरेश शर्मा, शिक्षा निदेशक (माध्यमिक) एवं सभापति, माध्यमिक शिक्षा परिषद्, उ0प्र0 द्वारा अपराह्न 12.30 बजे घोषित किया गया।
हाईस्कूल परीक्षा में 3378245 संस्थागत् 117729 व्यक्तिगत् कुल 3495974 परीक्षार्थी पंजीकृत हुए, जिनमें से 2957542 संस्थागत् तथा 98337 व्यक्तिगत् कुल 3055879 परीक्षार्थी परीक्षा में सम्मिलित हुए एवं 2489641 संस्थागत् तथा 69456 व्यक्तिगत् कुल 2559097 परीक्षार्थी उत्तीर्ण घोषित हुए। संस्थागत् परीक्षार्थियों का उत्तीर्ण प्रतिशत 84.18 तथा व्यक्तिगत् परीक्षार्थियों का उत्तीर्ण प्रतिशत 70.63 है, एवं सम्पूर्ण परीक्षार्थियों का उत्तीर्ण प्रतिशत 83.74 है।
इस परीक्षा में सम्मिलित प्रदेश के 3055879 परीक्षार्थियों में से 1631287 बालक तथा 1424592 बालिकायें हैं, जिनमें से 1300585 बालक तथा 1258512 बालिकायें उत्तीर्ण हुई हैं। बालकों का उत्तीर्ण प्रतिशत 79.73 तथा बालिकाओं का उत्तीर्ण प्रतिशत 88.34 है। सम्पूर्ण परीक्षार्थियों में बालिकाओं का उत्तीर्ण प्रतिशत बालकों के उत्तीर्ण प्रतिशत से 8.61 तथा संस्थागत परीक्षार्थियों का उत्तीर्ण प्रतिशत व्यक्तिगत परीक्षार्थियों के उत्तीर्ण प्रतिशत से 13.55  अधिक है।
इण्टरमडिएट परीक्षा में 2731522 संस्थागत् 188106 व्यक्तिगत् कुल 2919628 परीक्षार्थी पंजीकृत हुए, जिनमें से 2593832 संस्थागत् तथा 170445 व्यक्तिगत् कुल 2764277 परीक्षार्थी परीक्षा में सम्मिलित हुए एवं 2308472 संस्थागत् तथा 147024 व्यक्तिगत् कुल 2455496 परीक्षार्थी उत्तीर्ण घोषित हुए। संस्थागत् परीक्षार्थियों का उत्तीर्ण प्रतिशत 89.00 तथा व्यक्तिगत् परीक्षार्थियों का उत्तीर्ण प्रतिशत 86.26 है, एवं सम्पूर्ण परीक्षार्थियों का उत्तीर्ण प्रतिशत 88.83 है।
इस परीक्षा में सम्मिलित प्रदेश के 2764277 परीक्षार्थियों में से 1473090 बालक तथा 1291187 बालिकायें हैं, जिनमें से 1265515 बालक तथा 1189981 बालिकायें उत्तीर्ण हुई हैं। बालकों का उत्तीर्ण प्रतिशत 85.91 तथा बालिकाओं का उत्तीर्ण प्रतिशत 92.16 है। सम्पूर्ण परीक्षार्थियों में बालिकाओं का उत्तीर्ण प्रतिशत बालकों के उत्तीर्ण प्रतिशत से 06.25 तथा संस्थागत परीक्षार्थियों का उत्तीर्ण प्रतिशत व्यक्तिगत परीक्षार्थियों के उत्तीर्ण प्रतिशत से 02.74 अधिक है।
हाईस्कूल तथा इण्टरमीडिएट की परीक्षायें एक साथ दिनांक 19 फरवरी, 2015 से प्रारम्भ होकर हाईस्कूल की 11 मार्च, 2015 को तथा इण्टरमीडिएट की 23 मार्च 2015 को समाप्त हुईं। हाईस्कूल में कुल 11166 तथा इण्टरमीडिएट में 10341 परीक्षा केन्द्रों पर परीक्षा सम्पन्न हुई। हाईस्कूल तथा इण्टरमीडिएट की लिखित उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन दिनांकः 30 मार्च, 2015 से 13 अप्रैल, 2015 के मध्य प्रदेश के विभिन्न जनपदों में निर्धारित 237 मूल्यांकन केन्द्रों पर सम्पन्न हुआ। हाईस्कूल की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन 67622 तथा इण्टरमीडिएट की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन 68324 परीक्षकों द्वारा सम्पन्न किया गया। इण्टरमीडिएट की प्रयोगात्मक परीक्षायें दिनांक 26 दिसम्बर, 2014 से 25 जनवरी, 2015 के मध्य दो चरणों में कुल 12220 परीक्षकों द्वारा सम्पादित करायी गयी।
महबूब अली ने बताया कि प्रदेश के शिक्षा विभाग के इतिहास में पहली बार उ0प्र0 माध्यमिक शिक्षा परिषद की हाईस्कूल एवं इण्टरमीडियट का परीक्षाफल सी.बी.एस.सी. के पहले घोषित किया गया है, इससे इण्टरमीडियट के जो छात्र/छात्राएं विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में भाग लेना चाहें, वो भाग ले सकते हैं। उन्होंने परीक्षाफल समय से पहले घोषित होने पर इस कार्य में लगे सभी शिक्षकों, अधिकारियों तथा कमचारियों को हार्दिक बधाई दी है। उन्होंने हाईस्कूल एवं इण्टरमीडियट की परीक्षाओं में अच्छे अंक प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को भी बधाई दी है। उन्होंने कहा कि जो छात्र-छात्राएं इस परीक्षा में अपेक्षा से कम अंक प्राप्त किए हैं उन्हें निराश होने की जरूरत नहीं हैं। वह अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए आगे और प्रयास करते रहें। महबूब अली ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के दिशानिर्देशन में शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने हेतु हमारा प्रयास निरन्तर जारी रहा। इस दिशा में यह एक अच्छा कदम रहा।

Leave a Reply