अंततः कर ही दिए 84 आईएएस और 54 आईपीएस अफसरों के स्थानांतरण

अनीता श्रीवास्तव और शीतल वर्मा

उत्तर प्रदेश के जनपदों में तैनात जिलाधिकारियों और पुलिस अधीक्षकों को न हटाने को लेकर सरकार की कार्य प्रणाली की आलोचना होने लगी थी। अंततः आदित्यनाथ योगी की सरकार ने पहली बार बड़ा प्रशासनिक फेरबदल कर दिया है। बड़े पैमाने पर हुए तबादलों के चलते शीर्ष अफसरों में बेचैनी बढ़ गई है।

शासन ने फेरबदल करते हुए 84 आईएएस अफसरों और 54 आईपीएस अफसरों की सूची जारी कर दी है, इससे पहले 10-12 अफसरों को एक साथ इधर-उधर कर थी सरकार, लेकिन इस बार बड़ी सूची जारी होने से अफसरों में भी बेचैनी बढ़ गई है, लेकिन इससे आम जनता खुश है। व्यवस्था में सुधार न हो पाने को आम जनता पुराने अफसरों को ही जिम्मेदार मान रही थी, वहीं भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं से भी जगह-जगह टकराव हो रहा था। नये अफसर तैनात होने के बाद आम जनता को सहूलियत हो सकेगी।

शासन ने लखनऊ की एसएसपी मंजिल सैनी को भी हटा दिया है, वहीं मुरादाबाद, गाजियाबाद, बरेली और आगरा जैसे बड़े जिले भी प्रभावित हुए हैं। बदायूं से जिलाधिकारी पवन कुमार हटा दिए हैं, वे कवि भी हैं, उनकी जगह अनीता श्रीवास्तव तैनात की गई हैं, जो गायिका हैं।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

आईएएस अफसरों की तबादला सूची नंबर- एक।
आईएएस अफसरों की तबादला सूची नंबर- दो।
आईएएस अफसरों की तबादला सूची नंबर- तीन।
आईएएस अफसरों की तबादला सूची नंबर- चार।
आईएएस अफसरों की तबादला सूची नंबर- पांच।
आईपीएस अफसरों की तबादला सूची नंबर- एक।
आईपीएस अफसरों की तबादला सूची नंबर- दो।

 

 

 

 

Leave a Reply