नदी की तेज धार में फंसे दिल्ली के 11 लोग, एक की मौत

चमोली जनपद के मण्डल कस्बा क्षेत्र में स्थित बलखिला नदी में फंसे लोगों को बचाते राहत टीम के सदस्य व किनारे पर खड़े लोग।
चमोली जनपद के मण्डल कस्बा क्षेत्र में स्थित बलखिला नदी में फंसे लोगों को बचाते राहत टीम के सदस्य व किनारे पर खड़े लोग।

           किरन कांत

हिमाचल प्रदेश के मंडी जैसा ही दर्दनाक हादसा होते-होते रह गया। उत्तराखंड के चमोली जनपद में भी 11 लोग नदी की तेज धार में फंस गए, जिनमें से दस लोगों को तो कड़ी मेहनत से बचा लिया गया, लेकिन एक व्यक्ति तेज धार में बह गया।

हृदय विदारक हादसा चमोली जनपद के मण्डल कस्बे का है। दिल्ली के 59- बी केशव पुरम के निवासी प्यारे लाल का 11 सदस्यीय परिवार 16 जून को दिल्ली से बद्रीनाथ व हेमकुंड साहिब की यात्रा पर निकला था, जहाँ से लौटते हुए यह लोग बलखिला नदी में पिकनिक मनाने लगे, तभी यह लोग नदी की तेज धार के बीच फंस गए। शोर सुन कर लोग दौड़ पड़े और तत्काल प्रशासन को जानकारी दे दी गई। पाँच घंटे की मेहनत के बाद बाकी सबको तो निकाल लिया गया, पर एक व्यक्ति को नहीं बचाया जा सका।  बता दें कि चमोली जनपद के चोपता में हुई बारिश से बलखिला नदी का जल स्तर अचानक बढ़ गया था, जिस पर मस्ती कर रहे दिल्ली के इस परिवार का ध्यान ही नहीं गया।

Leave a Reply