घर से किशोरी को उठाया व घर में घुस कर महिला से गैंग रेप

अपर पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) बालेन्दु भूषण सिंह
अपर पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) बालेन्दु भूषण सिंह

यौन शोषण की सनसनीखेज वारदातों को लेकर दुनिया भर में कुख्यात हो चुके बदायूं में यौन शोषण की घटनायें थम नहीं पा रही हैं। आठ वर्ष की एक बच्ची जिला महिला अस्पताल में तड़प रही है, इस बीच दो और मामले प्रकाश में आये हैं। अपर पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) बालेन्दु भूषण सिंह ने मुकदमा लिखने का आदेश दिया है।

यौन शोषण की दोनों घटनायें सिविल लाइन थाना क्षेत्र की हैं। गाँव बहेड़ी निवासी एक महिला का कहना है कि उसकी एक पड़ोसन शराब तोड़ कर बेचने का धंधा करती है, जिससे उसके घर असामाजिक तत्वों का जमावड़ा लगा रहता है। आरोप है कि 19 फरवरी की रात में उसके घर गाँव का पिंटू और बदायूं के दो अज्ञात युवक घुस आये। उन्होंने उसे और उसके पति को बाँध दिया और उसकी तेरह वर्ष की बेटी को उठा ले गये। बाद में ग्रामीणों की मदद से बच्ची को खोजा, तो एक खेत में लहूलुहान अवस्था में मिली। पीड़ित की माँ की तहरीर पर अपर पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) बालेन्दु भूषण सिंह ने मुकदमा लिखने का आदेश दिया है।

सिविल लाइन थाना क्षेत्र के ही मीरा सराय निवासी एक महिला का कहना है कि 16 फरवरी की शाम के समय वह घर में बैठी चावल साफ कर रही थी, तभी सुरेन्द्र व देवेन्द्र नाम के युवक उसके घर में घुस आये। हथियारों के बल पर उसे कमरे में खींच ले गये और उसके साथ दुष्कर्म कर चले गये, इस प्रार्थना पत्र पर भी अपर पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) बालेन्दु भूषण सिंह ने मुकदमा लिखने का आदेश दिया है।

विजय यादव नाम के दरिंदे ने बच्ची की जिंदगी को रौंदा

Leave a Reply