ब्लूम्स के नन्हे-मुन्नों ने समझाये प्रेम के अनेक अर्थ, शिक्षिकायें हुईं मंत्रमुग्ध

प्रतिभाग करते ब्लूम्स के बच्चे।

बदायूं में ब्लूमिंगडेल स्कूल की शाखा ब्लूम्स में आयोजित किये गये दो दिवसीय ‘ब्लूम्स शो’ का आज समापन हो गया। समारोह का उद्घाटन अध्यक्षा पम्मी मेंहदीरत्ता ने किया। पी.जी., एन.सी., प्रेप प्रथम और द्वितीय कक्षा के बच्चों ने कार्यक्रम में जोश के साथ भाग लिया।

कक्षा पी.जी. के विद्यार्थियों द्वारा नाट्य रूपांतर के माध्यम से प्यार को भगवान व स्कूल के रूप में प्रदर्शित किया गया। कक्षा एन.सी. के बच्चों ने प्रेम को माता-पिता व प्रकृति के रूप में प्रदर्शित किया। कक्षा प्रेप के बच्चों ने प्रेम की परिभाषा दोस्ती व जीव-जन्तुओं के लगाव से अभिव्यक्त की। प्रथम कक्षा के बच्चों ने देशभक्ति, भाई-बहन, पर्यावरण व पड़ोसियों के प्रति प्यार का प्रदर्शन किया। द्वितीय कक्षा के बच्चों ने धर्म के प्रति प्रेम, राधा-कृष्ण का प्रेम, मानवता ही धर्म है, प्यार जहां है, वहां धन, यश, समृद्धि व सफलता होने का संदेश दिया। कक्षा अध्यापिकाओं के कुशल सानिध्य व मार्गदर्शन में ब्लूम्स की विभिन्न कक्षाओं के बच्चों ने मनमोहक प्रदर्शन किये।

अंत में अध्यक्षा पम्मी मेंहदीरत्ता ने बच्चों के प्रयास को जमकर सराहा एवं शिक्षिकाओं को बधाई देते हुए उनका आभार भी व्यक्त किया। उन्होंने कहा इस तरह के कार्यक्रमों का बच्चों के मन पर सकारात्मक असर होता है, इससे उनके हृदय में परिवार, समाज, धर्म और देश के प्रति लगाव बढ़ता है, जिसकी आज बेहद आवश्यकता है, इस मौके पर अध्यक्ष ईशान मेंहदीरत्ता, श्वेता मेंहदीरत्ता, प्रबन्धिका अनीता धमीजा व प्रधानाचार्या मिली घोष व स्कूल का समस्त स्टॉफ मौजूद रहा।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

प्रतिभाग करते ब्लूम्स के बच्चे।
प्रतिभाग करने वाली एक बच्ची को प्रोत्साहित करती पम्मी मेंहदीरत्ता।

Leave a Reply