भ्रष्ट जगमोहन के कारनामों को लेकर खीरी में भी एकजुट हो गये थे पत्रकार

भ्रष्ट ब्यूरो चीफ जगमोहन शर्मा

बदायूं के हिन्दुस्तान कार्यालय में तैनात भ्रष्ट ब्यूरो चीफ जगमोहन शर्मा के कारनामों के चलते खीरी कार्यालय में भी बड़ा बवाल हो चुका है। हालात इतने भयावह हो चले थे कि पुलिस की मदद लेने की स्थिति आ गई थी, तब आनन-फानन में संपादक और जीएम को पहुंच कर मामला शांत करना पड़ा था।

सूत्रों का कहना है कि बदायूं से पहले भ्रष्ट जगमोहन खीरी में तैनात था, इसके कारनामे वहां सीमा लाँघ गये, तो वहां के रिपोर्टर भी खुल कर विरोध में खड़े हो गये। बताते हैं कि वहां के क्राइम रिपोर्टर से कार्यालय में मारपीट तक की स्थिति उत्पन्न हो गई थी, इस पर अन्य स्टाफ क्राइम रिपोर्टर के पक्ष में खड़ा हो गया और जगमोहन को दौड़ा लिया।

घटना की सूचना बरेली पहुंची, तो उस समय के संपादक और जीएम ने आनन-फानन में खीरी पहुंच कर मामला शांत कराया, इस बीच उस समय बदायूं में तैनात मुलित त्यागी अपने गृह क्षेत्र में जाने की इच्छा जता चुके थे, साथ ही बदायूं जिले में कोई और आने को तैयार नहीं था, तो प्रबंधन ने खीरी का बवाल शांत करने एवं बदायूं की जगह भरने के उद्देश्य से जगमोहन को भेज दिया, लेकिन खीरी की घटना से जगमोहन ने सबक नहीं लिया और यहाँ भी वही सब शुरू कर दिया, जिससे तंग आकर पहले ओमेन्द्र सिंह ने और बाद में अभिषेक सक्सेना, हरीश कुमार और अरविंद सिंह ने सामूहिक रूप से त्याग पत्र दे दिया।

प्रबंधन ने जगमोहन जैसे भ्रष्ट व्यक्ति को अब भी संस्थान से बाहर नहीं किया, तो इसके कारनामों के चलते किसी दिन बड़ा बवाल हो सकता है, जिससे हिन्दुस्तान के साथ पत्रकारिता की भी साख खराब होगी। बताते हैं कि प्रबंधन ने शीघ्र निर्णय नहीं लिया, तो तहसील और थाना स्तर के कई रिपोर्टर सामूहिक रूप से त्याग पत्र दे सकते हैं।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

भाजपा नेता की पत्नी के नाम से फर्जी खबर छाप कर फंस चुका है भ्रष्ट जगमोहन

भ्रष्ट ब्यूरो चीफ नेताओं से लिखवा रहा है खबरें, दागी को बनाया फोटोग्राफर

भ्रष्ट ब्यूरो चीफ से तंग आकर हिन्दुस्तान से पत्रकारों ने दिए सामूहिक त्याग पत्र

Leave a Reply

Your email address will not be published.