मांगें मंजूर होते ही झूम उठे होमगार्ड्स, हड़ताल समाप्त

मुख्य सचिव राहुल भटनागर के साथ होमगार्ड्स प्रतिनिधि व अन्य तमाम अधिकारीगण।
मुख्य सचिव राहुल भटनागर के साथ होमगार्ड्स प्रतिनिधि व अन्य तमाम अधिकारीगण।
उत्तर प्रदेश में चल रही होमगार्ड्स की हड़ताल आज समाप्त करने की घोषणा कर दी गई। होमगार्ड्स कई दिनों से संघर्षरत थे, जिससे होमगार्ड्स के परिजनों को भी समस्या होने लगी थी, वहीं सुरक्षा व्यवस्था में अहम भूमिका होने के चलते पुलिस भी होमगार्ड्स की कमी महसूस कर रही थी।
मुख्य सचिव राहुल भटनागर की अध्यक्षता में उ.प्र. होमगार्ड अवैतनिक अधिकारी/कर्मचारी एसोसिएशन के प्रतिनिधियों के साथ विस्तार पूर्वक विचार विमर्श किया गया। होमगार्ड एसोसिएशन के प्रतिनिधि पी.सी. वीरेन्द्र कुमार सिंह, कार्यवाहक जिलाध्यक्ष, पी.सी. शिवनाथ सिंह, संयोजक तथा एच.जी. वासुदेव आदि उपस्थित थे। विचारोपरान्त होमगार्ड्स के जवानों को देय दैनिक भत्ते की दरों में 75 रूपये की वृद्धि स्वीकार की गई, अब उन्हें ड्यूटी की तिथियों में 375 रूपये की दर से भुगतान देय होगा। इसके अतिरिक्त गृह विभाग द्वारा संचालित डायल- 100 योजना में ड्यूटी पर लगाये जाने हेतु भी सहमति व्यक्त की गई। होमगार्ड्स एसोसिएशन द्वारा आपराधिक वाद में वांछित मुकेश द्विवेदी के बहाली के विषय में अनुरोध किया गया, जिस पर विचारोपरान्त उक्त मुकदमे में पारित होने वाले अन्तिम निर्णय के अधीन मुकेश द्विवेदी को बहाल किये जाने हेतु मत स्थिर किया गया।
होमगार्ड्स एसोसिएशन के प्रतिनिधियों द्वारा उपर्युक्त निर्णयों पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुये मुख्य सचिव के प्रयासों की सराहना की गई तथा हार्दिक आभार प्रकट किया गया एवं सर्वसम्मति से प्रस्तावित कार्य बहिष्कार एवं धरना/प्रदर्शन कार्यक्रम को वापस लिये जाने की घोषणा की गई। उक्त बैठक में प्रमुख सचिव, होमगार्ड्स विभाग संजीव दुबे, महासमादेष्टा वी. के. गुप्ता,  आयुक्त लखनऊ मण्डल भुवनेश कुमार, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक लखनऊ मंजिल सैनी, विशेष सचिव होमगार्ड्स गीता मिश्रा, संयुक्त सचिव होमगार्ड्स स्वामीनाथ पाण्डेय सहित तमाम प्रमुख अफसर मौजूद रहे।

Leave a Reply