सिद्ध बरौलिया में कहर बरपाने की तैयारी, ग्रामीणों पर मुकदमा, शिवम की अंत्येष्टि

गाँव सिद्ध बरौलिया में कागजी कार्रवाई करती पुलिस।

बदायूं जिले के प्राचीन और ऐतिहासिक गाँव सिद्ध बरौलिया में कहर बरपाने का पुलिस ने इंतजाम कर लिया है। ग्रामीणों की ओर से रिपोर्ट दर्ज न करने वाली पुलिस ने अपनी ओर से ग्रामीणों पर मुकदमा ठोंक दिया है। मुकदमा दर्ज होने से ग्रामीण दहशत में हैं और अधिकाँश पुरुष घरों से गायब हैं। मृतक शिवम की अंत्येष्टि कर दी गई है।

उघैती थाना क्षेत्र के गाँव सिद्ध बरौलिया में 2 अप्रैल को बाबा ध्यानदास ने प्रसाद के रूप में मावा मन्दिर में उपस्थित गाँव के ही अंकित पुत्र गजराम और शिवम को ग्रहण कराने के साथ स्वयं भी खा लिया था, जिसके बाद तीनों की हालत खराब हो गई थी। अंकित की उसी दिन मृत्यु हो गई, वहीं हालत गंभीर होने के कारण बाबा ध्यानदास और शिवम को बरेली रेफर कर दिया गया था। बरेली में उपचार के दौरान शिवम की अगले दिन मृत्यु हो गई, तो कोहराम मच गया। शव गाँव पहुंचने की सूचना के बाद 3 अप्रैल की रात को उघैती थाना पुलिस हिरासत में लिए गये आरोपी बाबा को लेकर मन्दिर पर पहुंची, तो पुलिस की कार्यप्रणाली से त्रस्त भीड़ ने हमला बोल दिया था। पुलिस की गाड़ी क्षतिग्रस्त करते हुए भीड़ ने गाड़ी में आग भी लगा दी थी एवं पुलिस को मन्दिर में ही बंधक बना लिया था। घटना के बाद रात में ही मौके पर आसपास के कई थानों की पुलिस तैनात कर दी गई थी। पोस्टमार्टम होने के बाद मृतक शिवम की भी दोपहर बाद अंत्येष्टि कर दी गई, जिसके बाद पुलिस ने राहत की सांस ली।

उक्त प्रकरण में सूत्रों का कहना है कि उघैती थाना पुलिस ने 36 ग्रामीणों को नामजद करते हुए 60 लोगों के विरुद्ध सरकारी कार्य में बाधा डालने और गाड़ी फूंकने का मुकदमा दर्ज कर लिया है, जिससे ग्रामीण दहशत में हैं और घरों से गायब हैं। यहाँ बता दें कि गाँव सिद्ध बरौलिया में प्राचीन और ऐतिहासिक गुफा है, जहाँ मन्दिर भी बना हुआ है, इस मन्दिर के अधीन लगभग छः सौ बीघा जमीन है एवं यहाँ बड़ी संख्या में दान की राशि भी आती है, इसी को लेकर यहाँ जंग छिड़ी हुई है, जिसमें पुलिस की भूमिका संदिग्ध रही है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

पुलिस ने रात में हटाया जली हुई जीप का मलवा, नहीं हुई शव की अंत्येष्टि

जहरीला प्रसाद खाने वाले दूसरे किशोर की मौत, पुलिस पर हमला, गाड़ी क्षतिग्रस्त

प्रसाद खाने से एक की मौत, महंत और किशोर की हालत गंभीर, बरेली रेफर

Leave a Reply