बदायूं के लिए आरबीआई से मांगी सौ करोड़ नई करेंसी: शिव

बैठक में संस्थागत वित्त, बीमा एवं वाह्य सहायतित परियोजना विभाग के महानिदेशक शिव सिंह यादव और जिलाधिकारी पवन कुमार।
बैठक में संस्थागत वित्त, बीमा एवं वाह्य सहायतित परियोजना विभाग के महानिदेशक शिव सिंह यादव और डीएम पवन कुमार।

बदायूं के लोगों के लिए खुश करने वाली खबर है। बैंकों में नई करेंसी के अभाव के चलते लोगों को हो रही असुविधा के संबंध में जिलाधिकारी पवन कुमार ने संस्थागत वित्त, बीमा एवं वाह्य सहायतित परियोजना विभाग के महानिदेशक शिव सिंह यादव को बताया, तो उन्होंने कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक से मांग की है कि बदायूँ जनपद के लिए पाँच सौ और दो हजार के नोट की सौ करोड़ की धनराशि अतिशीघ्र उपलब्ध कराई जाए।

गुरुवार को कलेक्ट्रेट स्थित सभाकक्ष में संस्थागत वित्त, बीमा एवं वाह्य सहायतित परियोजना विभाग के महानिदेशक/समाजवादी किसान सर्वहित बीमा योजना के निदेशक शिव सिंह यादव ने जिलाधिकारी पवन कुमार के साथ 500 और 1000 की नोटबंदी पर आ रही समस्याओं, समाजवादी किसान सर्वहित बीमा योजना तथा राज्य पुरोनिधानित योजनाओं में वित्त पोषण की गहन समीक्षा की। डीएम ने अवगत कराया कि सर्व यूपी ग्रामीण बैंक की 62 शाखाओं सहित विभिन्न बैंकों में धन अभाव के कारण आम जनता को पर्याप्त धनराशि नहीं मिल पा रही है। बैंकों में पांच सौ और दो हजार की नई करैंसी उपलब्ध हो जाए, तो शीघ्र ही समस्या का समाधान हो जाएगा, जिस पर महानिदेशक ने कहा कि उन्होंने बदायूँ जनपद की बैंकों के लिए आरबीआई से सौ करोड़ रुपए की मांग की है, जो अतिशीघ्र ही प्राप्त हो जाएगी।

उन्होंने समाजवादी किसान एवं सर्वहित बीमा योजना की समीक्षा के दौरान खतौनी में दर्ज प्रदेश के खातेदार, सह-खातेदार, बीपीएल परिवार तथा समाजवादी पेंशन पाने वाले परिवारों के साथ ही प्रति वर्ष 75 हजार रुपए से कम वार्षिक आय वाले परिवारों को योजना सम्बंधी बीमा केयर कार्ड देने की प्रक्रिया यूपी डेस्को कम्पनी द्वारा अब तक शुरू न करने पर असंतोष व्यक्त करते हुए जनपद में 3 लाख लोगों को बीमा केयर कार्ड वितरण करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि पहले इस योजना को किसान दुर्घटना बीमा के नाम से जाना जाता था, 14 सितम्बर, 2016 को प्रातः 10 बजे से समाजवादी किसान सर्वहित बीमा योजना लागू की गई है, इसके अन्तर्गत हितलाभ राशि पांच लाख रुपए देय होगी।

उन्होंने कहा कि दुर्घटना ग्रस्त मामलों की पोस्टमार्टम हाउस तथा सम्बंधित थानों से सूचना प्राप्त की जाए और जो व्यक्ति इस योजना के लिए पात्र हों, उन्हें हितलाभ दिया जाए। दुर्घटनाओं के मामले में इलाज हेतु सरकारी और निजी चिकित्सालय भी चिन्हित किए गए हैं। इसका दुर्घटना ग्रस्त लोगों को लाभ मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि समाजवादी किसान एवं सर्वहित बीमा योजना अन्तर्गत यदि किसी व्यक्ति को बीमा दावा निस्तारण हेतु ओरियंटल इंश्योरेंस कम्पनी लिमिटेड से कोई समस्या हो तो वह मुख्यमंत्री बैंकिंग एवं बीमा हैल्पलाइन के टोल फ्री नम्बर 1520 पर समस्या दर्ज करा सकता है। उन्होंने बैठक में मौजूद बैंकर्स और जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि राज्य पुरोनिधानित योजना कामधेनु, मिनी कामधेनु, माइक्रो कामधेनु तथा समाजवादी स्वरोजगार योजना मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की प्राथमिकता वाली योजनाएं हैं। इसमें ऋण स्वीकृति संबंधी कोई समस्या नहीं आना चाहिए। जनपद को इन योजनाओं में जो लक्ष्य प्राप्त हुआ है उसे शतप्रतिशत पूरा किया जाए, धन की कोई कमी आढ़े नहीं आएगी। इस अवसर पर संस्थागत वित्त विभाग के उप निदेशक निसार अहमद, जिला बचत अधिकारी संजीव सक्सेना सहित सम्बंधित इंश्योरेंस एवं कार्ड वितरण कंपनी सहित सम्बंधित बैंकों के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.