चिन्मयानंद के कॉलेज का अध्यापक यौन उत्पीड़न में फंसा

श्री शंकर मुमुक्षु विद्यापीठ की प्रबंध समिति का अध्यक्ष व यौन उत्पीड़न का आरोपी कुख्यात संत चिन्मयानंद
श्री शंकर मुमुक्षु विद्यापीठ की प्रबंध समिति का अध्यक्ष व यौन उत्पीड़न का आरोपी कुख्यात संत चिन्मयानंद

धूर्त चिन्मयानंद की अध्यक्षता वाले ट्रस्ट द्वारा संचालित कॉलेज के अध्यापक द्वारा अपने ही छात्र का यौन उत्पीड़न करने का मामला प्रकाश में आया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी को जेल भेज दिया है। घटना की व्यापक स्तर पर निंदा करते हुए अधिकाँश लोग कहते सुने जा रहे हैं कि जिस संस्था का अध्यक्ष ही दुष्चरित्र है, वहां ऐसी ही घटनायें होंगी।

जघन्य वारदात शाहजहाँपुर की है। यहाँ प्राचीन मुमुक्षु आश्रम स्थित का है, जिसके ट्रष्ट का वर्तमान में अध्यक्ष पूर्व गृह राज्यमंत्री व कुख्यात संत चिन्मयानंद है। इसी की अध्यक्षता में आश्रम परिसर में कई शैक्षिक संस्थायें संचालित की जाती हैं, जिनमें से एक है श्री शंकर मुमुक्षु विद्यापीठ। इस कॉलेज में गणित पढ़ाने वाले अध्यापक शोभित अग्रवाल पर कक्षा ग्यारह के छात्र का यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगा है।

आरोपी शिक्षक शोभित अग्रवाल
आरोपी शिक्षक शोभित अग्रवाल

पुलिस ने संबंधित धाराओं के साथ पास्को एक्ट के तहत कार्रवाई करते हुए आरोपी अध्यापक को जेल भेज दिया है। घटना को लेकर शाहजहांपुर में अधिकाँश लोग स्तब्ध हैं और यही कहते सुने जा रहे हैं कि जिस संस्था का अध्यक्ष ही संत के रूप में हैवान है, उस संस्था के बाकी लोग ऐसे ही दुष्कर्म करेंगे। यहाँ यह भी बता दें कि धूर्त चिन्मयानंद भी लड़कियों का यौन उत्पीड़न करने के लिए कुख्यात है एवं इसकी शैक्षिक संस्थाओं में करोड़ों के घपले भी बताये जाते हैं, लेकिन उच्च स्तरीय राजनैतिक संबंध होने के कारण जाँच व कार्रवाई नहीं होने देता। अब माना जा रहा है कि इस घटना के बाद लोग आश्रम द्वारा संचालित शैक्षिक संस्थाओं से किनारा कर जायेंगे।

संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

चिन्मयानंद की मदद के बावजूद आसाराम को नहीं मिली राहत

स्वामी शुकदेवानंद ट्रस्ट से चिन्मयानंद आउट

खुलासा: चिन्मयानंद पीड़ित के पैसे से ही लड़ रहा केस

सवाल: शाहजहाँपुर में किसने बो दिये पाप के बीज?

Leave a Reply