दलित युवती का बंधक बना कर यौन उत्पीड़न, गहने लूट कर फिरौती मांगी

यौन उत्पीड़न का आरोपी विपिन यादव

बदायूं जिले में निरंतर हो रही घटनाओं को देखते हुए कहा जा सकता है कि लड़कियाँ बिल्कुल सुरक्षित नहीं हैं। बहशी दरिंदों के ही नहीं, बल्कि लड़कियाँ उन पत्रकारों के भी निशाने पर हैं, जिन्हें आगे बढ़ कर उनकी सुरक्षा करनी चाहिए। अलग-अलग घटनाओं में एक पत्रकार सहित कई दरिंदों पर यौन उत्पीड़न के मुकदमे दर्ज हुए हैं। चौंकाने वाली बात यह है कि पुलिस की भूमिका पीड़ितों को ही परेशान करने वाली रही है।

कस्बा बिसौली की संजय कॉलोनी निवासी बाल्मीकि समाज की एक लड़की दिल्ली में रहती है, वह घर आई हुई थी, इस दौरान टैक्सी लेकर वह बरेली स्थित फन सिटी में चली गई, जहां से लौटते समय उसका बाइक सवार एक युवक पीछा कर रहा था। कस्बा वजीरगंज में आकर युवक ने गाड़ी रुकवा ली और पूछताछ करने लगा, तो लड़की ने आई कार्ड दिखाने को कहा, साथ ही वह डायल- 100 को कॉल करने लगी, तो युवक भाग गया। बिसौली पहुंच कर लड़की ने टैक्सी छोड़ दी और वह टैंपो से घर जाने लगी, तभी एक युवक ने आकर टैंपो के ड्राईवर के कान में कुछ कहा। लड़की ने ड्राईवर से पूछा, तो उसने बताया कि कागजों के बारे में पूछ रहे थे, लेकिन ड्राईवर उसे बदायूं रोड पर ले गया। तीन किलो मीटर ले जाने के बाद एक बाइक सवार ने आकर उसे खींचा, तो उसने चीखते हुए रोड पर आ रही एक कार को रुकवाया, जिसमें बैठ कर वह बिसौली आई और चौराहे पर खड़ी डायल- 100 की गाड़ी के पास पहुंची, तभी नीले रंग की नैनो कार संख्या- यूपी- 24- 4709 से विपिन यादव नाम का युवक आ गया और उसने कहा कि वह कोतवाली की ओर जा रहा है, वह उसे भी पहुंचा देगा, तो लड़की कार में बैठ गई।

लड़की का आरोप है कि कार में बैठते ही उसके हाथ-पैर बाँध दिए और उसका यौन उत्पीड़न करने लगे, उसके टॉप, चेन, अंगूठी वगैरह ले लिए, साथ ही उससे फिरौती भी मांगी, तो उसने कहा कि दिल्ली जाकर रूपये पहुंचा देगी, तो विपिन यादव ने उसे एसबीआई का खाता संख्या- 16882191028374 दे दिया। चार घंटे गाड़ी में बंधक रखने के बाद लड़की को छोड़ा, तो वह पुलिस की शरण में गई, लेकिन आरोपी के कथित पत्रकार होने के चलते पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया, जिसके बाद वह अफसरों से मिली, तो पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया। कथित पत्रकार विपिन यादव को नामजद करते हुए पांच अज्ञात के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया गया है।

इसी तरह सिविल लाइन थाना क्षेत्र के गाँव भगवती पुर के मजरा घेर मढ़ैया में गुरूवार की शाम को तीन लड़कियाँ चारा लेने गई थीं, तभी उन्हें गाँव के ही दो रोमियों ने घेर लिया और फिर उनका यौन उत्पीड़न करने का प्रयास करने लगे। लड़कियाँ चीखने लगीं, तो ग्रामीण दौड़ पड़े, जिससे लड़कियों की इज्जत बच गई, लेकिन दोनों रोमियों भाग गये। घटना के बाद पीड़ित थाने में आये, तो उनकी शिकायत भी नहीं सुनी गई। पीड़ित आज एसएसपी के समक्ष पेश हुईं, तब उनका मुकदमा दर्ज हुआ। पुलिस ने आरोपी के भाई को हिरासत में ले लिया है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

Leave a Reply